Tuesday, January 26, 2021

गंदा पानी पीने से 16 बच्चे हुए बीमार, उल्टी-दस्त की शिकायत से मचा हड़कंप

 

नीमच. मध्य प्रदेश के नीमच में गंदा पानी पीने से एक साथ 16 बच्चे बीमार पड़ गए. देवरान गांव में उल्टी और दस्त की शिकायत के बाद 2 से 5 साल तक सभी बच्चों को उनके परिजन और अन्य ग्रामीणों ने तत्काल रामपुरा के शासकीय अस्पताल में भर्ती कराया. इधर, नीमच (Neemuch News) के मनासा तहसील के देवरान गांव में एक साथ 16 बच्चों को उल्टी-दस्त की शिकायत से सनसनी फैल गई. आनन-फानन में प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे. साथ ही पीएचई विभाग की टीम को भी पानी की जांच के लिए बुलाया गया. हालांकि अस्पताल में इलाज के बाद 14 बच्चों की हालत ठीक है.

कम उम्र के बच्चों को उल्टी-दस्त की शिकायत के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीम ने पीएचई विभाग को देवरान गांव में दूषित पानी की जांच का निर्देश दिया है. मनासा ब्लॉक की मेडिकल अफसर निरूपा झा ने न्यूज 18 के साथ बातचीत में कहा कि गंदा पानी पीने से बीमार हुए बच्चों का तत्काल इलाज किया गया. अधिकतर बच्चों की हालत ठीक है. 16 में से 14 बच्चे पूरी तरह ठीक हो चुके हैं. मेडिकल अफसर ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी देवरान गांव के पानी की जांच कर रहे हैं. बच्चों और उनके परिजनों से बात कर स्थिति के बारे में विस्तृत जानकारी जुटाई जा रही है.

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक क्षेत्र के विधायक अनिरुद्ध मारू ने भी घटना की जानकारी होने के बाद प्रशासन के अधिकारियों से पूरी जानकारी ली. उन्होंने स्वास्थ्य विभाग की टीम को आवश्यक जांच-पड़ताल करने के निर्देश भी दिए हैं. उन्होंने रामपुरा शासकीय अस्पताल में भर्ती किए गए बीमार बच्चों की सेहत के बारे में स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों से भी बात की और उन्हें पूरी सतर्कता के साथ बच्चों का इलाज करने को कहा.

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...