Wednesday, January 27, 2021

मोखुंदा के सेठ के घर करोड़ों की डकैती की बना रहे थे योजना, राजसमंद पुलिस ने 6 को दबोचा, हथियार बरामद

 

 भीलवाड़ा/ राजसमंद हलचल। राजसमंद जिले की भीम थाना पुलिस की सजगता से भीलवाड़ा के मोखुंदा में डकैती की बड़ी वारदात टल गई। भीम पुलिस ने हरियाणा, दिल्ली और राजसमंद जिले के आधा दर्जन बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े गये आरोपितों से हथियार, रस्सी, मिर्च पाउडर,कार व चोरी की दो स्कूटी भी बरामद की है। पुलिस का मानना है कि इस गिरोह से कई और वारदातें खुलने की संभावना है। 
भीम थाना प्रभारी गजेंद्रसिंह ने जारी किये प्रेस नोट में बताया कि राजसमंद एसपी भवन भुषण यादव, एएसपी राजेश गुप्ता, डीएसपी भीम नरपत सिंह के निर्देशन में भीम थाना प्रभारी सिंह मय जाब्ते के गश्त और लोकल -स्पेशल एक्ट की कार्रवाई के लिए रवाना हुये। इस दौरान मुखबिर से थानाप्रभारी सिंह को सूचना मिली कि जालपा गांव निवासी सुगनसिंह पुत्र नारायण सिंह का दो मंजिला मकान जालपा गांव के एकांत में है।  इस भवन में 5 अनजान व्यक्ति आये हुये हैं और बदमाश प्रवृति के प्रतित हो रहे हैं। ये लोग कोई बहुत बड़ी वारदात कर सकते हैं। इस सूचना पर थाना प्रभारी सिंह मय जाब्ते के वहां पहुंचे और सुगन सिंह के मकान की घेराबंदी की। थाना प्रभारी अपनी पहचान छिपाते हुये मकान के प्रवेशद्वार पर पहुंचे। जहां कमरे से आवाज आने लगी। थाना प्रभारी सिंह ने अंदर से आ रही आवाज सुनी। वे, लोग कह रहे थे कि आज रात रायपुर से आगे मोखुंदा गांव में एक सेठ के यहां लूटपाट कीवारदात करनी है। एक व्यक्ति अन्य व्यक्तियों को रात्रि में की जाने वाली वारदात के लिए तरीके को समझाता रहा। करीब दो मिनट तक बातचीत सुनने के बाद थाना प्रभारी जाब्ते के साथ कमरे में गये तो अंदर बैठे लोग पुलिस को देखकर भागने लगे, जिन्हें पकड़ा। 
बदमाशों ने यह बताई अपनी पहचान
पुलिस ने पकड़े गये आरोपितों से पूछताछ की तो इन्होंने खुद को अमित कुमार पुत्र रतन शेरावत 28 व विजय कुमार पुत्र राजवीरसिह  जाट  29   निवासी मोहनपुर, जिला महेन्द्रगढ हरियाणा,  योगेश शर्मा पुत्र अशोक शर्मा  28 साल निवासी आरजेड 194 बी ब्लोक गोपालनगर थाना नजफगढ नई दिल्ली, अर्जुनसिंह पुत्र सुबेसिंह  गुर्जर 26  निवासी मकान नं 9909 आधा ठाकुरदास थाना सराय रोहिल्ला नई दिल्ली, जयसिह पुत्र रूपसिह रावत  32 निवासी दिवेर राजसमंद और  सुगनसिंह पुत्र नारायणसिंह रावत 50 साल निवासी जालपा, भीम जिला राजसमंद बताया।
किसके पास क्या मिला
आरोपित अमित कुमार के पास से पुलिस को देसी कट्टा व दो जिन्दा कारतूस, विजय कुमार के कब्जे में  एक देसी कट्टा व एक जिन्दा कारतूस मिला।  योगेश शर्मा के कब्जे में एक पिस्टल व अर्जुनसिंह के पास  दो रस्सी व जयसिंह के पास लाल मिर्च पाउडर की थैली, एक कार व चोरी की दो स्कूटी मिली। इन हथियारों व वाहनों को जब्त कर लिया गया।  
कई संगीन अपराधों से संबंधित केस दर्ज
भीम पुलिस ने प्रेसनोट में बताया कि पकड़े गये आरोपित आदतन अपराधी है। ये  दिल्ली और हरीयाणा के रहने वाले होकर आदतन अपराधी है । इनमें से कुछ के खिलाफ  कई जगह हत्या, हत्या का प्रयास, लुट , डकेती , के मुकदमें दर्ज है। यह गिरोह हाइवे पर लुट करने , अपहरण कर फिरोती मांगने जैसी संगीत वारदातों मे लिप्त है, जो राजस्थान मे भी काफी समय से सर्किय है । 

कनक भवन मालिक के यहां डालनी थी डकैती
  भीम पुलिस ने जब इन सभी लोगों  से गांव के एकान्त में हथियारो के साथ इक_ा होने के बारे में पूछताछ की तो एक आरोपित अमित ने बताया कि गांव मोखुन्दा में एक कनक भवन वाला एक सेठ है। उसके पास करोडों का धन है।  यह सूचना विजय कुमार को उसके ब्यावर के पास रहने वाले उसके साथी नवलसिह ने दी थी। ्रविजय कुमार ने ही उन्हें इस भवन में वारदात करने से पूर्व इक_ा होने के लिए बुलाया था । 25-26 जनवरी की रात को कनक भवन के सेठ के घर पर जाने वाले थे।  पूर्व में दो व्यक्ति घर के अन्दर प्रवेश करने तथा बाद में अन्य साथी प्रवेश कर कनक भवन के घर से करोडो का माल लूट कर लाने वाले थे।  इस भवन की रैकी का वीडियो आरोपित अमित कुमार ने अपने मोबाईल फोन में होना कबूल किया है। 

ये थे टीम में 
पुलिस निरीक्षक गजेंद्र सिंह के साथ इस टीम में दीवान मोहम्मद सलीम, रामगोपाल, शौकत खान, आंनद कुमार, बजरंग सिंह, खुमाण सिंह, हरेंद्र कुमार, विकास कुमार, सुनील कुमार, बाबुलाल, संदीप, जलेसिंह, हरीपाल, मनोज कुमार आदि पुलिसकर्मी शामिल थे। 

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...