Wednesday, January 27, 2021

बिहार में पड़ रही कड़ाके की सर्दी, पूरी जनवरी तक राहत के आसार नहीं

 

पटना,  ।  पश्चिम से आने वाली बर्फीली हवा के कारण राजधानी पटना  समेत पूरा बिहार भीषण ठंड से ठिठुर रहा है। बुधवार की सुबह वातावरण में कोहरा फैलने से ठंड का तीखापन और ज्यादा बढ़ गया है। मौसम विज्ञानियों के मुताबिक इस तरह की स्थिति 30 जनवरी तक बनी रहने की उम्मीद है। उसके बाद मौसम में थोड़ा सुधार हो सकता है।

पश्चिम से आने वाली बर्फीली हवाएं बढ़ा रहीं ठंड

पटना मौसम विज्ञान केंद्र के वैज्ञानिक संजय कुमार का कहना है कि वर्तमान में पश्चिम से आने वाली बर्फीली हवा देश की पर्वतों से टकरा कर मैदानी भागों में गुजर रही है, जिससे काफी ठंडी हो जा रही है । ठंडी हवा पूरे उत्तर भारत को अपने चपेट में ले लिया है । उसका असर बिहार में भी देखा जा रहा है।  फिलहाल पूरा प्रदेश बर्फीली हवाओं एवं कोहरे की चपेट में है । सुबह में राजधानी में ठंड इतनी ज्यादा थी कि शहर के पार्को एवं मैदानों में बहुत कम लोग नजर आए।  सड़के भी खाली रही। मौसम विज्ञानियों का कहना है कि दोपहर बाद मौसम में सुधार होगा और लोगों को ठंड से राहत मिलेगी ।

सुबह-शाम जारी रहेगी ठंड

मौसम विज्ञानियों का कहना है कि सुबह शाम ठंड अभी जारी रहेगी। धूप निकलने के कारण दोपहर में ठंड में कमी आ सकती है। लेकिन सूर्यास्त के बाद एक बार फिर तापमान में गिरावट आएगा, जो सुबह तक जारी रहेगा।

स्वास्थ्य के प्रति लोग रहें सावधान

मौसम विज्ञानियों ने लोगों को सावधान किया है कि फिलहाल उन्हें स्वास्थ्य के प्रति सचेत रहने की जरूरत है। सुबह शाम सामान्य से ज्यादा ठंड पड़ रही है। ऐसे में लोगों को स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही घातक हो सकती है। लोग बीमार हो सकते हैं।

बच्चों की विशेष देखभाल की जरूरत

पीएमसीएच के शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर राकेश कुमार शर्मा का कहना है कि फिलहाल बच्चों की स्वास्थ्य के प्रति लोगों को विशेष केयर की जरूरत है। वर्तमान में बच्चे आसानी से ठंड की चपेट में आ जा रहे हैं। काफी संख्या में बच्चों को निमोनिया, सर्दी एवं बुखार का शिकार होते देखा जा रहा है। ऐसे में अभिभावक बच्चों के प्रति विशेष ध्यान दें। सुबह में बच्चों को बाहर ना खेलने दें । घर का वातावरण भी गर्म रखने की कोशिश करें । घर के अंदर भी बच्चे गर्म कपड़े में रहे तो बेहतर होगा ।

बच्चों के साथ-साथ बुजुर्ग भी रहें सावधान

पीएमसीएच के वरिष्ठ हार्ट रोग विशेषज्ञ डॉक्टर अशोक कुमार का कहना है कि वर्तमान में बुजुर्गों को ठंड से बचाव का हर संभव कोशिश करना चाहिए। सुबह में मैदानों में टहलने के लिए कतई ना निकले।  घर में भी बीपी और शुगर की नियमित दवाओं का सेवन करते रहें। बुजुर्गों को फिलहाल खानपान पर भी ध्यान देने की जरूरत है। रात में अधिक देर तक खुले में रहना उनके स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक साबित हो सकता है।

 

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...