Friday, January 29, 2021

जहरीली शराब पीने के बाद दंपती सहित चार की बिगड़ी हालत, एक गंभीर



 भीलवाड़ा (हलचल)। प्रदेश के भरतपुर इलाके में जहरीली शराब पीने से सात लोगों की मौत के बाद अब जहरीली शराब ने भीलवाड़ा में भी कहर बरपाया है। जिले के सारण का खेड़ा गांव के एक दंपती सहित चार लोगों की गुरुवार रात जहरीली वस्तु के सेवन से हालत बिगड़ गई। चारों को उपचार के लिए जिला अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। उधर, इस शराब कांड से ग्रामीणों में दहशत फैल गई। 
एमजीएच चौकी सूत्रों के अनुसार, मांडलगढ़ थाने के चार लोगों को गुरुवार रात जिला अस्पताल लाया गया, जहां उन्हें भर्ती कर लिया गया। इनमें गुल्ला पुत्र रामचंद्र कंजर, इसकी पत्नी मंजू कंजर व इसी गांव के भौमसिंह पुत्र कानसिंह राजपूत व दलेल सिंह पुत्र लादूसिंह राजपूत शामिल हैं। प्रारंभिक  तौर पर बताया गया है कि इन चारों की हालत शराब पीने के बाद बिगड़ी। ऐसे में इन लोगों द्वारा पी गई शराब जहरीली होने की बात कही जा रही है। साथ ही यह भी बताया गया है कि इनमें से एक व्यक्ति की हालत गंभीर बनी हुई है। 
बता दें कि प्रदेश में जहरीली शराब का कहर लगातार बरप रहा है। पिछले पखवाड़े ही प्रदेश के भरतपुर जिले के रूपवास थाना इलाके के चकसामरी गांव में  जहरीली शराब पीने से 7 लोगों की मौत हो गई थी।  मौतों की संख्या अब सात पहुंच चुकी है। साथ ही तीन गंभीर घायलों को जिला अस्पताल से जयपुर के लिए रेफर किया गया है। वहीं इस हादसे के बाद जिला और आबकारी विभाग के अधिकारी मौके पर पहुंचे है। फिलहाल जांच जारी है । 

शहर के साथ-साथ ग्रामीण इलाकों में बेखौफ बैची जा रही है शराब
इधर शहर के साथ-साथ गांवों में बिक्री होने वाली अवैध देशी हथकढ़ शराब के प्रति लोगों में काफी रोष व्याप्त है । ग्रामीणों ने आरोप लगाया है कि ग्रामीण इलाके में अवैध हथकढ़ शराब की बिक्री काफी समय से हो रही है, जिसके खिलाफ  पुलिस-प्रशासन द्वारा कोई कार्यवाही कनहीं की गई।  जानकारी के मुताबिक शहर के आस-पास की कॉलोनियों व गांवों के साथ ही जिले के ग्रामीण इलाकों में अवैध हथकड़ शराब का गोरखधंधा चल रहा है।

बाजाद खुले, वाहनों की रेलमपेल रही और लोगो ने की खरीददारी

  भीलवाड़ा। जिले में लगभग पिछले दो माह से कर्फ्यु घोषित किया हुआ था राज्य सरकार के आदेशानुसार कर्फ्यु में ढ़ील देने के बाद बुधवार को सुबह 6 बज...