Saturday, January 23, 2021

निजी क्लिनिक संचालक का अपहरण, बंधक बनाकर की मारपीट, कांटों में फैंककर भाग छूटे अपहरणकर्ता


 भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में अपहरण की घटनायें लगातार बढ़ रही है। करेड़ा क्षेत्र में एक भंगार कारोबारी को अगवा करने के बाद पीट-पीटकर हत्या कर देने के मामले में पुलिस की जांच अभी पूरी भी नहीं हुई कि जिले के गारियाखेड़ा में निजी क्लिनिक संचालक  को तीन लोगों ने अगवा कर लिया और बंधक बनाकर गंभीर मारपीट की। इतना ही नहीं, पीडि़त को कांटों में फैंककर अपहरणकर्ता फरार हो गये, जिसे उपचार के लिए अस्पताल में भर्ती करवाया गया है। 
बदनौर पुलिस ने हलचल को बताया कि शंभुगढ़ निवासी मनोज कुमार पुत्र धर्मीचंद रैगर ने गोपालपुरा निवासी गोपाल पुत्र मांगीलाल गुर्जर व गारियाखेड़ा के देबीलाल पुत्र हिंदूलाल गुर्जर व भंवर पुत्र अर्जुन गुर्जर के खिलाफ रिपोर्ट दी। 
मनोज कुमार ने रिपोर्ट में बताया कि वह गारियाखेड़ा में प्राइवेट क्लिनिक चलाता है। शुक्रवार शाम 4.19 बजे वह रामपुरिया से रवाना होकर शंभुगढ़ जा रहा था। इस बीच, रास्ते में गोपाल गुर्जर  ने फोन किया कि उसके हाथ में दर्द है। तबीयत खराब है, टेबलेट लेनी है। 
इस पर वह वापस गारियाखेड़ा पहुंचा। जहां तीनों आरोपित गोपाल, देबीलाल व भंवरलाल मिले। ये लोग आसमानी रंग की इको गाड़ी में  आये थे। तीनों ने उसे अगवा कर लिया और बंधक बनाकर बेल्ट, लकडिय़ों व गाड़ी के पाने से गंभीर मारपीट की। इसके बाद आरोपित उसे तेजूराम मास्टर के मकान के पास कांटों में फैंक कर भाग छूटे। इस घटना में उसे शरीर पर चोटें आई। मनोज कुमार ने यह भी बताया कि उसने प्राइवेट क्लिनिक चलाने से गांव वाले उससे नाराजगी रखते हैं। पुलिस का कहना है कि मनोज को पहले बदनौर अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां से उसे भीलवाड़ा रैफर कर दिया गया। 
उधर, पुलिस ने इस घटना को लेकर केस दर्ज किया है, जिसकी जांच आसींद डीएसपी रोहित मीणा कर रहे हैं।  
 

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...