हल्दीघाटी युद्ध की 446वीं युद्धतिथि के अवसर पर शहीदों को पुष्पांजलि अर्पित

 


राजसमन्द (राव दिलीप सिंह )

भगवान राम के वंशज महाराणा प्रताप द्वारा मातृभूमि के स्वाभिमान की रक्षार्थ लड़े गए ऐतिहासिक हल्दीघाटी के  जनयुद्ध की 446 वीं युद्धतिथि पर पंचायत समिति खमनोर,ग्राम पंचायत , हल्दीघाटी पर्यटन समिति एवं अन्य स्थानीय नवयुवक मंडलों द्वारा युद्धस्थल रक्ततलाई में स्थित शहीदों की स्मृति में प्रातः 8 बजे पुष्पांजलि अर्पित की गई। शहीदों को नमन कर युवाओं ने महाराणा के जयकारों से रणक्षेत्र को गुंजायमान कर दिया। 

शहीद स्मारकों पर पुष्पांजलि अर्पित करने के दौरान प्रधान खमनोर पंचायत समिति भेरूलाल वीरवाल,जय हल्दीघाटी नवयुवक मंडल संरक्षक किशन कटारा, हल्दीघाटी पर्यटन समिति संस्थापक कमल मानव, हल्दीघाटी पर्यटन समिति अध्यक्ष राकेश पालीवाल, योगेश पालीवाल,छगन माली, गौरव पालीवाल, दीपक दवे सहित अन्य कई युवा उपस्थित रहे।

पुष्पांजलि के पश्चात हल्दीघाटी पर्यटन समिति के युवाओं द्वारा खमनोर कस्बे में घर घर जाकर पीले चावल देते हुए शनिवार शाम को शहीदों की स्मृति में रक्ततलाई में होने वाली दीपांजलि एवं स्वरांजलि समारोह में आने का सभी को निमंत्रण दिया गया।

ज्ञात रहे कि हल्दीघाटी पर्यटन समिति विगत करीब दो दशकों से युद्धतिथि को युद्धस्थल रक्ततलाई में भव्यता से मनाने हेतु प्रयासरत रही है जिसके सुखद परिणामस्वरूप ग्राम पंचायत खमनोर द्वारा पहली बार इसे प्रायोजक बन कर मान्यता दी गई । पंचायत द्वारा युद्धस्थल पर आयोजन में सहभागिता निभाने से इसे आने वाली पीढ़ियों तक याद रखा जाएगा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना