पृथ्वी के संरक्षण के लिए पर्यावरण को बचाना जरूरी - मेघवाल

 


भीलवाड़ा।

विधानसभा के पूर्व अध्यक्ष एवं शाहपुरा-बनेड़ा विधायक कैलाश मेघवाल ने कहा कि पृथ्वी के संरक्षण के लिए पर्यावरण को बचाना आज की महत्‍ती आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि भारत ही ऐसा देश है जहां पशु-पक्षी और पेड़-पौधों को देव तुल्य माना गया है। इसका उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा कि हम जिस समाज में रहते है वहां की परंपरा में निहित कर दिया गया है और इसी को आगे बढ़ाने के लिए संस्कार के रूप में भगवान देवनारायण का विवाह पीपल से कराया जाता है। 
मेघवाल सोमवार को बनेड़ा के समीप कमालपुरा गांव में आयोजित भगवान देवनारायण व पीपल विवाह समारोह को बतौर मुख्य अतिथि के रूप में स्बोधित कर रहे थे। उन्होंने स्थल पर विकास कार्य के लिए विधायक कोष से 5 लाख रूपये की राशि स्वीकृति की। वहीं मेघवाल ने 11 हजार रूपये आयोजन के लिए भेंट किये। इस अवसर पर प्रधान प्रतिनिधि शिवसिंह, भाजपा के पूर्व जिला उपाध्यक्ष लक्ष्मीलाल सोनी आदि ने भी विचार व्यक्त करते हुए विधायक मेघवाल द्वारा पूरे विधानसभा क्षेत्र में कराये जा रहे विकास कार्यों की सराहना करते हुए बताया कि विधायक मेघवाल क्षेत्र में सर्व समाज को साथ लेकर चलने वाले जनप्रतिनिधि है और जब से विधायक बने है विधानसभा क्षेत्र में कोई भी काम हो यथा संभव उस कार्य में अपनी उपस्थिति देते है।
भगवान देवनारायण व पीपल विवाह समारोह का आयोजन लादूलाल मेघवंशी द्वारा किया गया। जिसमें दाता ग्राम से भगवान देवनारायण की बारात यहां पहुंची। इस अवसर पर गंगाराम, विनोद, गोपाल,नाथूलाल, अमरचन्द आदि मौजूद थे। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना