मुंबई में रह रही भीलवाड़ा की महिला के भूखंड को खुर्द बुर्द कर धोखाधडी करने का आरोप,केस दर्ज

 


 भीलवाड़ा बीएचएन। एक महिला ने आधा दर्जन लोगों के खिलाफ मांडल थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है। महिला ने इन लोगों पर नाजायज लाभ कमाने की गरज में आपराधिकर पडयन्त्र रचकर उसके अन्सल सुशांत सिटी स्थित भूखंड को अन्य व्यक्ति के साथ सांठ गांठ कर खुर्द बुर्द कर धोखाधडी करने का आरोप लगाया है। 
एफआईआर के अनुसार, मूलतया आरसी व्यास कॉलोनी भीलवाड़ा हाल विमल मालावत पुत्री अभयराम मालावत निवासी भीलवाडा हाल  आरएचसी 2 श्री सावन नगरी सोसायटी, पनवेल, जिला रायपुर नई मुम्बई, महाराष्ट्र निवासी सुश्री विमल पुत्री अभयराम मालावत ने मांडल थाने में रिपोर्ट दी। 
विमल ने रिपोर्ट में सुनील , परनव नई दिल्ली अनुप जपुर, अशोक  भीलवाड़ा, विशाल व संजय जयपुर को आरोपित बनाया है। विमल ने रिपोर्ट में बताया कि अन्सल कॉलोनाइजर्स एण्ड डवलपर्स प्रा0 लि0 नई दिल्ली की ओर से ग्राम आरजिया , अजमेर रोड भीलवाड़ा पर अंशल सुशान्त सिटी के नाम पर बसाई गई कॉलोनी में भूखण्ड में उसने बी 363 नपती 185 वर्ग गज  604345/- रुपये मे कम्पनी से वर्ष 2009 में खरीदा, जिसका 11 किस्तों में मय ब्याज कर दिया गया। भूखण्ड  का सारा भुगतान कर देने के पश्चात कोई बकाया नहीं है । भूखण्ड की परिवादिया एकमात्र मालिक है, लेकिन बार बार सम्पर्क करने पर भी पट्टा बनाने के लिए कम्पनी ने एनओसी आज दिन तक जारी नही की । कम्पनी के भीलवाडा ऑफीस का मैनेजर अशोक मुंदड़ा ने परिवादी को फोन कर  उक्त प्लॉट को अपने मिलने वाले व्यक्ति को बेचने का दबाव बनाता रहा। परिवादिया विमल के मना करने देने पर जानबुझ कर एनओसी नहीं देने के लिए घुमाता रहा।  
2017 से अब तक तरह तरह से बाहनेबाजी कर रहा कि जयपुर, दिल्ली ऑफिस में तकनीकी कारण से एनओसी जारी नहीं हो रही हैं। पिछले महीने विमल ने उसको फोन कर कानूनी कार्यवाही की बात की तो उसने उक्त कम्पनी के ऑफिसर विशाल गौड व जयपुर ऑफिस के अपने बॉस संजय गुप्ता से बात करवाई । तीनो ने  आश्वासन दिया कि इस मामले को जल्दी से निपटा देंगे। आप  थोड़ा समय दो। फिर इन  तीनो ने परिवादिया को इस प्लॉट के बजाय अजमेर- जयपुर में कहीं भी प्लॉट देने की बात कही । परिवादिया विमल को वाट्सअप पर इस भूखण्ड को कैन्सीन करने की सूचना का नोटिस प्रेषित किया और परिवादिया के बन्द पड़े भीलवाड़ा के मकान के पते पर नोटिस देना जाहिर कर डिफाल्टर बताया । जबकि आज से 5-6 वर्ष पूर्व ही वह मुम्बई शिफ्ट हो चुकी है।   किसी प्रकार की सुचना परिवादिया के ईमेल आईडी पर देने के लिए सुचित कर चुकी है लेकिन आज दिन तक उसकी मेल आई डी पर सुचित नहीं कर  साथ धोखाधड़ी करने की नियत से बन्द पड़े मकान पर गलत व झूंठे नोटिस प्रेषित कराये । जिसकी परिवादिया को कोई जानकारी नहीं है। विमल का कहना है कि उसने इस आवंटित भूखण्ड बी 363 नपनी 185वर्गगज का सम्पूर्ण भुगतान कर दिया है किसी प्रकार की बकाया रकम नहीं हैं ।  स्टीफ ऑफ लेण्ड के लिए उसने कोई सहमती दी न ही कोई हस्ताक्षर किए । फिर भी उसके भूखण्ड को हड़पने  की नियत से स्टीफ ऑफ लेण्ड का बहाना बना कर हड़प गये । इन तीनो ने परिवादिया को धमकी दी की परिवादिया के स्वामित्व के भूखण्ड को अन्यत्र व्यक्ति को  ऊंचे दाम पर बेच कर रकम हड़प ली। इस रकम में से तीनों ने अपना हिस्सा रखते हुए उक्त कम्पनी के मालिक / डायरेक्टर सुशील , प्रनव , एमडी अनुप बेटी को भेज दी हैं । विमल का आरोप है कि इन सभी लोगों ने नाजायज लाभ कमाने की गरज में आपराधिकर पडयन्त्र रच परिवादिया के भूखण्ड को अन्य व्यक्ति के साथ सांठ गांठ कर उसे सूर्द बुर्द कर  धोखाधडी की ।   पुलिस ने मामला दर्ज कर लिया। इसकी जांच एएसआई चिराग खां कायमखानी कर रहे हैं। 

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

कपड़ा व्यवसायी के घर चल रहा था सेक्स रैकेट , 2 लड़कियां सहित 6 हिरासत में