महंगाई घटी पर सब्जियों के दाम बढ़े, तेल-घी, मसाले और ट्रांसपोर्टेशन ने बढ़ाई मुश्किलें

 



मई में खुदरा महंगाई में गिरावट से थोड़ी राहत मिली है, लेकिन सब्जियां,तेल-घी, मसाले और परिवहन आदि महंगे होने से मुश्किलें कम नहीं हुई हैं। सरकार की ओर से जारी आंकड़ों के मुताबिक अप्रैल में 15.41 फीसदी के मुकाबले मई में सब्जियों की महंगाई दर 18.61 फीसदी रही है।वहीं तेल और घी 13.25 फीसदी महंगा हुआ है। मसाले 10, कपड़े-चप्पल 9, ईंधन-बिजली 9.5 फीसदी महंगे हुए हैं। साथ ही ट्रांसपोर्टेशन में भी 9.5 फीसदी की महंगाई देखी गई है।

सरकार ने उपभोक्ताओं पर महंगाई के बोझ को कम करने के इरादे से डीजल और पेट्रोल पर उत्पाद शुल्क में कटौती के साथ सोयाबीन जैसे खाद्य तेलों पर लगने वाले आयात शुल्क में कटौती की है, लेकिन तुरंत इसका फायदा इन उत्पादों पर उपभोक्ताओं को मिलता हुआ नहीं दिख रहा है। हालांकि, कुछ अन्य उत्पादों में महंगाई जरूर नरम पड़ी है।

अनाज और उसके उत्पादों के मामले में मुद्रास्फीति मई में कम होकर 5.33 प्रतिशत रही जो इससे पिछले महीने में 5.96 प्रतिशत थी। फलों की महंगाई दर धीमी पड़कर मई में 2.33 प्रतिशत रही जो एक महीने पहले 4.99 प्रतिशत थी। अंडा तथा दलहन और उसके उत्पादों की कीमतों में क्रमश: 4.64 प्रतिशत और 0.42 प्रतिशत की गिरावट आई

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना