सरकारी भवनों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम्स की हालत खस्ता

 


भीलवाड़ा बीएचएन।

भारतीय सांस्कृतिक निधि इंटेक के भीलवाड़ा चेप्टर संयोजक बाबूलाल जाजू ने बताया कि जिले में करोड़ों की लागत से बने 90 प्रतिशत सरकारी भवनों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की हालत खस्ताहाल है। जिससे वर्षा का पानी व्यर्थ में बह जाता है। कहने व गिनाने को एक भी भवन ऐसा नहीं है जहां सरकार की वाटर हार्वेस्टिंग योजना सही से अमल में लाई जा रही हो, जिससे सरकार की वर्षा के जल को बचाने की योजना खटाई में पड़ गई है। जाजू ने आज एक प्रेस वक्तव्य जारी कर कहा कि करोड़ो रूपया खर्च कर सरकारी भवनों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम्स बनाये गये थे, लेकिन छतों से टैंक में जाने वाले पाईप व बैण्ड टूटे होने से वर्षा का जल टैंक में पहुंच नहीं पा रहा है और व्यर्थ बह रहा है।

जाजू ने जिला कलेक्टर भीलवाड़ा का ध्यान आकृष्ट किया कि सभी सरकारी कार्यालयो, विद्यालयो, चिकित्सालयो व अन्य सरकारी इमारतों में वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम को ठीक कराएं ताकि वर्षा के अनमोल जल को बचाया जा सके। जाजू ने कहा कि यदि समय रहते वाटर हार्वेस्टिंग के पाईप, छतों की सफाई व हार्वेस्टिंग का संपूर्ण सिस्टम ठीक नहीं किया तो इस वर्ष भी वर्षा का करोड़ो लीटर जल व्यर्थ बह जायेगा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद