गांजे की खेती... उद्धव ठाकरे पर कंगना रनौत का पलटवार, कहा- तुच्छ आदमी, आनी चाहिए शर्म

मुंबई । बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत ने एक बार फिर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे पर पलटवार किया है। महाराष्ट्र का बचाव करते हुए कंगना रनौत पर निशाना साधने के लिए उद्धव ठाकरे की ओर से हिमाचल प्रदेश को गंजे की खेती करने वाला राज्य बताने पर एक्ट्रेस ने जवाब दिया है। कंगना ने पूछा कि उद्धव इस तरह क्यों व्यवहार करते हैं कि महाराष्ट्र उनका है? रनौत ने हिमाचल प्रदेश को देवभूमि बताते हुए महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री को तुच्छ व्यक्ति कह डाला।


रविवार को दशहरा भाषण के दौरान उद्धव ठाकरे ने कंगना रनौत या हिमाचल प्रदेश का का नाम लिए बिना कहा कुछ लोग मुंबई रोजी-रोटी के लिए आते हैं और इसे पीओके बताकर गाली देते हैं। उद्धव ने कहा, ''मुंबई पीओके है, यहां हर जगह ड्रग्स लेने वाले लोग हैं। वे कुछ इस तरह की तस्वीर बनाना चाहते हैं। वे नहीं जानते हैं कि हम अपने घरों में तुलसी उगाते हैं, गांजा नहीं। गांजे के खेत आपके राज्य में है, आप जानते हो कहां, महाराष्ट्र में नहीं।''


कंगना ने ट्विटर पर जवाब देते हुए लिखा, ''मुख्यमंत्री आप बहुत तुच्छ व्यक्ति हैं। हिमाचल को देव भूमि कहा जाता है, यहां सबसे अधिक संख्या में मंदिर हैं और क्राइम रेट शून्य है। हां, यहां की जमीन बहुत उपजाऊ है, यह सेब, कीवी, अनार और स्ट्रॉबेरी की उपज होती है, यहां कोई कुछ भी उगा सकता है।''


कंगना ने अगले ट्वीट में लिखा, ''आप एक ऐसे नेता हैं जिसका नजरिया एक ऐसे राज्य को लेकर तामसिक, अदूरदर्शी और कम जानकारी वाला है, जो भगवान शिव और मां पार्वती का निवास स्थान है। इसके अलावा कई महान संतों जैसे मार्केंडेय, मनु ऋषि और पांडवों ने निर्वासन का लंबा समय हिमाचल में बिताया।''


रनौत ने एक अन्य ट्वीट में तीखे शब्दों का इस्तेमाल करते हुए लिखा, ''मुख्यमंत्री, आपको खुद पर शर्म आनी चाहिए, जनसेवक होने के बावजूद आप इस तरह के तुच्छ झगड़े में शामिल हैं, अपनी शक्ति का इस्तेमाल आपसे अहसमत लोगों के अपमान और नुकसान के लिए कर रहे हैं। गंदी राजनीति खेलकर आपने जो कुर्सी हासिल की है, उसके लायक आप नहीं हैं। शर्म की बात है।''


पहले ट्वीट में टाइपो को ठीक करते हुए उन्होंने कहा कि हिमाचल में कोई अपराध नहीं है। उन्होंने कहा, ''एक बार फिर साफ करना चाहती हूं कि हमारे यहां हिमाचल में गरीब या बहुत अधिक अमीर लोग या अपराध नहीं है। यह एक आध्यात्मिक स्थान है जहां बहुत मासूम और दयालु लोग रहते हैं।'' 


एक बार फिर उद्धव पर निशाना साधते हुए कंगना रनौत ने कहा, ''एक मुख्यमंत्री का जुर्रत देखिए वह देश को बांट रहा है, किसने उन्हें महाराष्ट्र का ठेकेदार बनाया? वह केवल जनसेवक हैं, उनसे पहले वहां कोई और था और जल्द ही वह बाहर होंगे और कोई और राज्य की सेवा के लिए आएगा। वह ऐसा क्यों व्यवहार कर रहे हैं कि महाराष्ट्र के मालिक हैं।''


कंगना ने कहा, ''जिस तरह हिमालय की सुंदरता हर भारतीय की है, मुंबई जो अवसर देता है वह हम सभी के लिए है, दोनों मेरे घर हैं। उद्धव ठाकरे, आप हमारे लोकतांत्रिक अधिकार छीनने और हमें बांटने की कोशिश ना करें। आपके गंदे भाषण आपकी अक्षमता का एक अश्लील प्रदर्शन हैं।''


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा