पुष्कर मेले का इस साल कोरोना महामारी के कारण नहीं होगा आयोजन

पुष्कर / कोरोना महामारी के कारण इस बार अंतरराष्ट्रीय पुष्कर मेले का आयोजन नहीं होगा । देश-विदेश में विख्यात पुष्कर मेेले का आयोजन नहीं करने को लेकर राज्य सरकार ने अपना मानस बना लिया है।पर्यटन विभाग व अजमेर जिला प्रशासन ने मेले की तैयारियों पर ब्रेक लगा दिया है। प्रतिवर्ष पुष्कर मेला भव्य तरीके से आयोजित होता है। इसके तहत पहले हिस्से में पशु मेले का आयोजन होता है और दूसरे हिेस्से में कार्तिक मास की शुक्ल एकादशी से पूर्णिमा तक पंचतीर्थ स्नान का आयोजन होता है । इस साल 22 से 30 नवंबर के बीच मेले का आयोजन होना था।राज्य के प्रमुख पर्यटन सचिव आलोक गुप्ता ने बताया कि कोविड-19 की गाइडलाइन के कारण पुष्कर मेले का आयोजन नहीं होगा। पुष्कर नगर पालिका के चेयरमैन कमल पाठक का कहना है कि कई दशकों में पहली बार मेले का आयोजन इस बार नहीं होगा। उल्लेखनीय है कि मेले के दौरान बड़े पैमाने पर पशु मेला भी आयोजित होता है । मेले में बड़े पैमाने पर पशुओं की खरीद-फरोख्त होती है । इस मेले को कैमल फेयर के नाम से भी जाना जाता है ।


  एकमात्र ब्रहमा मंदिर पुष्कर में है


पुष्कर देश का एकमात्र ऐसा स्थान है जहां भगवान ब्रहमा का मंदिर है । ऐसा माना जाता है कि मंदिर के चारों तरफ सरोवर को 33 मिलियन हिंदू देवताओं द्वारा कार्तिक पूर्णिमा की रात को पवित्र किया जाता है । यही खासियत पुष्कर को हिंदू अनुयायियों के लिए पांच धामों में से एक बनाता है। स्थानीय लोगों का दावा है कि पुष्कर मेला 100 साल से भी अधिक पुराना है। शुरू में इस मेले का आयोजन हिंदू कैलेंडर के अनुसार कार्तिक के चंद्र माह मे कार्तिक पूर्णिमा के दिन मनाया जाता था।तीन दशक पहले तक आसपास के गांवों के लोग यहां लोक संगीत और नृत्य के साथ धार्मिक अनुष्ठान कर के हिंदू संस्कृति का जश्न मनाते थे ।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना