रोडवेज में कोरोना गाइडलाइन की उड़ रही धज्जियां, नहीं दिख रहे पालना कराने वाले जिम्मेदार

भीलवाड़ा (हलचल)। एक ओर सरकार कोरोना के तेजी से बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए नई-नई गाइडलाइन जारी कर रही है वहीं सरकार के अधीन आने वाले विभाग ही इसका उल्लंघन करे तो आम आदमी से उम्मीद रखना बेमानी हो जाता है।
ऐसा ही एक नजारा गुरुवार को जयपुर से भीलवाड़ा आ रही रोडवेज बस में देखने को मिला। बस में सोशल डिस्टेंसिंग तो दूर की बात रही, कई सवारियों ने तो मास्क तक नहीं लगा रखा था। बस में यात्रियों की संख्या इतनी थी कि सवारियों को खड़े रहकर सफर तय करना पड़ रहा था। यह सभी को पता है कि बुधवार को गहलोत सरकार ने नई गाइडलाइन जारी कर दी है जो 16 अप्रैल से लागू होगी। हालांकि सरकार ने नई गाइडलाइन जारी होने की तारीख 16 अप्रैल घोषित की है लेकिन इसका यह मतलब तो बिल्कुल नहीं है कि कोरोना 16 अप्रैल को गाइडलाइन लागू होने के बाद ही अटैक करेगा। इसके बाद भी आज कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ाई जा रही है। नई गाइडलाइन में बसों में सवारियों की संख्या क्षमता की 50 प्रतिशत करने के निर्देश दिए गए हैं। बिना मास्क किसी को बस में प्रवेश नहीं देने और यात्रा के बाद बसों को पूरी तरह सैनेटाइज करने के निर्देश भी दिए गए हैं।

Popular posts from this blog

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

झटके पे झटका ... कांग्रेस का जिले में बनेगा बोर्ड ?