Saturday, April 17, 2021

कोरोना को हराने के लिए सबका मिला साथ

 


राशमी (कैलाश चन्द्र सेरसिया)। राजस्थान में वैश्विक महामारी कोरोना की दूसरी लहर को रोकने के लिए लगाए गए वीकेंड कर्फ्यू का असर शनिवार को उपखंड मुख्यालय सहित अन्य गांवों के बाजारों में दिखाई दिया और इस दौरान आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर शेष दुकानें बंद रही। क्षैत्र में आम लोग बेवजह घर के बाहर नहीं निकले। कोरोना के कारण लॉकडाउन के बाद प्रदेश में पहली बार वीकेंड कर्फ्यू लागू हुआ है और इससे लोग ज्यादा भयभीत नजर नहीं आए। यह दो दिन का कर्फ्यू होने से लोगों में विश्वास है कि दो दिन बाद फिर हालात सामान्य हो जाएंगे। पूरे राजस्थान में 19 अप्रैल सुबह 5 बजे तक वीकेंड कर्फ्यू रहेगा। एसडीएम सुनील शर्मा ने बताया कि इस दौरान अति आवश्यक सेवाओं को छोड़कर अन्य को बाहर निकलने की अनुमति नहीं है। बैंक, सार्वजनिक परिवहन, आईटी, टेलीफोन कार्मिकों, वकील, न्यायिक सेवा, मीडिया, मंडियां, किराना, डेयरी, भोजन, सब्ज़ी को आवश्यक सेवाओं में शामिल किया गया है। कोविड वैक्सीन के लिए भी 45 वर्ष की आयु से अधिक के पात्र लोगों को टीकाकरण केंद्र जाने की अनुमति है। शनिवार को बाजारों की दुकानें बंद रही। वीकेंड कर्फ्यू के दौरान अनिवार्य सेवाओं को छोड़कर सभी क्षेत्र बंद रहे। पुलिस और प्रशासन ने न केवल लोगों की सुरक्षा साथ ही कोरोना से जागरूकता का भी मोर्चा संभाला । वीकेंड कर्फ्यू को जनसमर्थन मिलने से पुलिस को भी मशक्कत नहीं करनी पड़ी।