Thursday, April 15, 2021

कटारिया के इस्तीफे और पूनियां की माफी तक जारी रहेगा करणी सेना का विरोध- महिपाल सिंह मकराना

 

राजसमन्द (हलचल)। श्रीराजपूत करणी सेना (राजसमन्द) और सर्व हिन्दू संगठन के बैनर तले गुरूवार को नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया द्वारा महाराणा प्रताप पर दिए विवादित बयान के विरोध में एक विशाल जन आक्रोश रैली निकाली गई, जो कांकरोली व राजसमन्द के मुख्य मार्गों से होते हुए पुरानी कलेक्ट्री पंहुचकर सभा में तब्दील हो गई। संगठन के राष्ट्रीय अध्यक्ष महिपाल सिंह मकराना ने कहा कि पिछ्ले दिनों भाजपा प्रदेशाध्यक्ष सतीश पूनियां के एक कार्यक्रम में मंच पर महाराणा प्रताप की मूर्ति को चरणों में रखकर उनका अपमान किया, जिसकी माफी पूनियां ने आज तक नहीं माँगी। उक्त मामला शांत नहीं हुआ उससे पहले ही नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप के बारे में अमर्यादित भाषा का प्रयोग कर फिर उनका अपमान किया। मकराना ने कहा कि पूनियां को भी राजपूत समाज से माफी मांगनी चाहिए और कटारिया को अपना इस्तीफा दे देना चाहिए। जब तक ऐसा नहीं होगा तब तक करणी सेना का विरोध जारी रहेगा। 

सेना राष्ट्रीय कार्यकारिणी समिति के अध्यक्ष और प्रदेश महासचिव विश्वबंधु सिंह राठौड़ ने  राजपूत युवाओं से आह्वान किया कि वे सोशल मीडिया की दुनिया से बाहर निकलकर अपने स्वाभिमान की लड़ाई सड़कों पर उतरकर लड़ें। इस दौरान प्रदेशाध्यक्ष भंवर सिंह सलाड़िया व दिलीप सिंह खिजुरी सहित कई पदाधिकारियों ने भी सभा को सम्बोधित किया। 

भीलवाड़ा से जिलाध्यक्ष सुरेन्द्र सिंह पांसल, शहर अध्यक्ष रामेन्द्र सिंह शक्तावत व कुलदीप सिंह आटुण सहित उदयपुर, चित्तौड़गढ़ व बांसवाड़ा से भी सैंकड़ों करणी सैनिक इस आक्रोश रैली में शामिल हुए।

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...