यह कैसा कफ्र्यू: नेशनल हाइवे सहित ग्रामीण क्षेत्रों में खुली दुकानें, बिना मास्क आ रहे ग्राहकों को सामान दे रहे दुकानदार

 


बैरां (भैरूलाल गुर्जर)। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को रोकने के लिए सरकार चाहें 60 घंटे का कफ्र्यू लगाए या लॉकडाउन, लेकिन कुछ लोगों ने तो जैसे ठान रखा है कि वे कोरोना को नहीं जाने देंगे। तभी तो नेशनल हाइवे एवं ग्रामीण क्षेत्रों में कफ्र्यू ही नहीं बल्कि कोरोना गाइडलाइन तक की धज्जियां खुलेआम उड़ाई जा रही हैं।
यहां पुलिस और प्रशासन को भी न तो सरकार के आदेशों की चिंता है और न ही लोगों की फिक्र। सबसे बड़ी बात तो यह है कि जहां ग्राहक बिना मास्क आ रहे हैं वहीं दुकानदार भी बिना मास्क ही उन्हें सामान बेच रहे हैं। ऐसे में कोरोना का संक्रमण रोकने के सरकारी प्रयास बेमानी साबित हो रहे हैं।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !