माँ के हत्यारे बेटे ने कर दिया खुलासा, पसंद नहीं था शख्स

 


 जयपुर

लखनऊ में  बेटे के द्वारा माँ को गोली मारे जाने के मामले में तीसरे शख्स की एंट्री का खुलासा हो चुका है। साफ हो चुका है कि पिता की शह पर बेटे ने मां का कत्ल किया है। जी हाँ, उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हुए हत्याकांड में लगातार एक के बाद एक खुलासे हो रहे हैं। PUBG की कहानी अब एक बिल्कुल नए मोड़ पर पहुंच चुकी है। नाबालिग बेटा अब घर में मां की हत्या को जायज ठहरा रहा है। इसके पीछ घर में तीसरे शख्स' की एंट्री को माना जा रहा है। गौरतलब है कि, अभी तक बच्चा यही बता रहा था कि ज्यादा रोका-टोकी की वजह से ही उसने अपनी मां को गोली मार दी।

जानकारी के मुताबिक, लगातार खबर चल रही थी कि लखनऊ के पीजीआई थाना इलाके के नाबालिग ने अपनी मां को महज इस बात के लिए गोली मारकर कत्ल कर दिया था कि कि उसको रोका-टोका किया जाता था। समय गुजरता गया ,धीरे-धीरे आगे बढ़ा तो इसमें नए खुलासे होने लगे हैं और अब इस केस में तीसरे शख्स की एंट्री हुई है, जिसकी वजह से ही यह पूरी हत्या की रूपरेखा तैयार हुई थी।

बेटे को पसंद नहीं था शख्स, माँ ने की थी पिटाई

आरोपी नाबालिग बेटे ने बाल कल्याण समिति (CWC) की पूछताछ में बताया है कि जब पापा घर में नहीं होते थे, तब मम्मी से मिलने प्रॉपर्टी डीलर वाले अंकल आते थे। यह देखकर मुझे बहुत बुरा लगता था। मैंने इस बात की शिकायत एक दिन पापा से कर दी। जिसके बाद पापा और मम्मी के बीच जमकर लड़ाई हुई। इसके बाद मम्मी ने मुझे खूब मारा। तभी से मेरे मन में अंदर से गुस्सा भरा था।

  छीन लिया था माँ ने फोन

प्रॉपर्टी डीलर अंकल एक दिन घर डिनर पर आए। यह मुझे नागवार गुजरा। उस दिन मैंने खाना नहीं खाया। जिसकी शिकायत मैं फिर पापा से की। इसकी वजह से मां ने मेरा फोन छीन लिया था और जमकर मेरी पिटाई की। पापा से मैंने कहा कि मुझे यह सब पसंद नहीं है। तो पापा ने कहा -मैं होता तो पिस्टल उठाकर गोली मार देता। जब बेटे ने ये सुना तो पूछा, मैं क्या करूं? पापा ने बोले- जो मन में है, तुम वह करो।

  माँ ने की थी पिटाई

कुछ दिन बाद मम्मी के पैसे (10 हजार रुपए) गायब हुए। ये पैसे बच्चे ने नहीं लिया था, उसका ये दावा है, फिर भी मेरी जमकर पिटाई की गई...मुझे बहुत बुरा लगा। मुझे मम्मी ने खाना भी नहीं दिया। मैं पूरी रात भूखा रहा। और तभी मैंने सोच लिया कि अब खाना तभी खाऊंगा, जब इस बात का बदला ले लूंगा। उसके बाद रात में हम तीनों (मां, छोटी बहन और आरोपी खुद) सो रहे थे। मैं उठा, पिस्टल निकाली और मम्मी को गोली मार दी।

पापा को थी  जानकारी

पापा को सब जानकारी थी कि घर में क्या चल रहा है। यहां तक कि पापा गुस्सा होते थे, लेकिन कुछ नहीं करते थे। फिर मैंने ही मां को गोली मार दी। पापा के ये बात बेटे ने बता दी थी। पापा ने कहा था ---#$#* तूने अपनी माँ को गोली मार दी। बहन इस वाकये से सन्न थी। कुछ समझ नहीं आने पर दो दिन यूं बच्चा कमरे में बंद रहा।

4 जून को हुआ था  कत्ल

गौरतलब है कि लखनऊ के पीजीआई थाना इलाके की यमुनापुरम कॉलोनी में एक 16 साल के लड़के ने बीते 4 जून को अपनी मां को गोली मार दी थी और उसके शव को दो दिन तक कमरे में बंद रखा था। बताया जाता है कि फिर उसके बाद 7 जून को को पश्चिम बंगाल के आसनसोल में तैनात सेना के जवान पिता को घटना की जानकारी दी थी। घटना के दौरान लड़के की 9 साल की बहन भी घर पर थी। लड़के ने उसे धमकाकर दूसरे कमरे में बंद कर दिया था। वहीं, मां के शव से निकलने वाली दुर्गंध को छिपाने के लिए रूम फ्रेशनर का इस्तेमाल किया जाता रहा।

'फोन आते ही समझ गया...

दरअसल , इस मामले में अब तक यह बताया गया कि नाबालिग ऑनलाइन गेम पबजी   का आदी था। मां उसे गेमिंग के लिए रोकती थी, इसलिए रोका टोकी से परेशान होकर उसने उसे मार डाला। नाबालिग ने अपनी मां को गोली मारने के लिए अपने पिता की लाइसेंसी पिस्टल का इस्तेमाल किया था। लेकिन अब तीसरे शख्स की एंट्री से इस पूरे मामले का खुलासा हुआ है।



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू