हरिद्वार :शाही स्नान में 65 साल से अधिक उम्र को नहीं मिलेगी अनुमत‍ि, जांच रिपोर्ट नही होने पर स्टेशन से लौटना होगा

हरिद्वार  ।कुंभ के शाही स्नान में 65 साल से अधिक उम्र के लोगों को स्नान करने की अनुमत‍ि नहीं म‍िलेगी। हरिद्वार व योगनगरी स्टेशन पर कोविड की जांच की जाएगी। इस दौरान जिससे पास 72 घंटे पहले की जांच रिपोर्ट नहीं होगी, उसे स्टेशन से ही वापस कर दिया जाएगा।

उत्तराखंड सरकार ने शाही स्नान पर कोरोना संक्रमण से बचाव के ल‍िए गाइड लाइन जारी कर द‍िया है। इसमें रेलवे से भी सहयोग मांगा है। कुंभ मेला का शाही स्नान 12 अप्रैल से तीस अप्रैल तक अलग-अलग तारीख में आयोजित होना है। प्रदेश सरकार ने कुंभ मेला में आने वाले व शाही स्नान करने वालों के लिए कोविड-19 के कारण गाइड लाइन जारी की है। इसमें स्पष्ट क‍िया गया है क‍ि 65 वर्ष से अधिक उम्र वाले व 10 साल से कम उम्र के बच्चों को कुंभ मेला व शाही स्नान में आने की अनुमत‍ि नहीं होगी। कुंभ मेला और शाही स्नान करने वाले आने वालों को 72 घंटे पहले कोरोना की जांच रिपोर्ट लानी होगी। ज‍िसे कोरोना का टीका लग चुका है, उसे टीका लगाने का प्रमाण पत्र लाना होगा। रेलवे स्टेशन व बस अड्डे पर आने वाले यात्रियों की कोरोना की जांच की जाएगी। जिसके पास जांच रिपोर्ट नहीं होगी, उसे रेलवे स्टेशन से बाहर नहीं निकलने दिया जाएगा। दूसरे ट्रेन से वापस कर दिया जाएगा। रेलवे प्रशासन अधिक उम्र के आने वाले लोगों को नियमों की जानकारी देकर हरिद्वार नहीं जाने से रोकेगा। बता दें क‍ि इस समय कोरोना संक्रमण तेजी से बढ़ रहा है। इसे लेकर स्‍वास्‍थ्‍य महकमा भी अलर्ट हो गया है। बाहर  से आने वालों की न‍िगरानी कराई जा रही है। इसके अलावा लोगों को जागरूक भी क‍िया जा रहा है। प्रवर मंडल वाणिज्य प्रबंधक रेखा शर्मा ने बताया कि उत्तराखंड सरकार ने गाइड लाइन जारी की है। हरिद्वार आने वाले यात्रियों को एसएमएस द्वारा इसकी जानकारी दी जाएगी। 

 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक