व्यवसायी को धमकी- जान की सलामती चाहता है तो फिजुल के लफड़े में नहीं पड़, वो बड़े लोग हैं, जान भी ले सकते हैं, धमकाने आये दो युवकों को पकड़ा

 


 भीलवाड़ा बीएचएन। मौसेरे भाई का परिवार के लोगों के साथ चल रहे प्रोपर्टी विवाद में सहयोग करने से खफा लोग अब स्थानीय व्यवसायी को कभी फोन पर तो कभी ऑफिस पर बदमाशों को भिजवाकर धमकियां दिलावा रहे हैं। इस बीच धमकाने के लिए आये लोगों में से दो को पकड़ कर कोतवाली पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 
कोतवाली पुलिस के अनुसार, काशीपुरी निवासी व्यवसायी संदीप पुत्र महेन्द्रकुमार जैन ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसके मोसा पदम भंसाली के साथ मिलकर वह इमिटेशन ज्वेलरी का व्यवसाय बैंगलोर में करते हैं। मोसाजी का देहान्त हो गया। उनका लड़का सोरभ भंसाली परिवादी का भाई है।  सोरभ , उसके चाचा पवन भंसाली व उसकी पत्नी पिंकी भंसाली के मध्य प्रोपर्टी को लेकर विवाद चल रहा है। परिवादी का आरोप है कि मोसा की सम्पत्ति को उनका भाई पवन भंसाली अवैध रूप से हथियाना चाहता है। जिसे लेकर परिवादी ने अपने मौसेरे भाई सोरम भंसाली का सहयोग किया था। 
 पवन भंसाली व पिंकी भंसाली परिवादी को लगातार धमकी दे रहे है कि तुम इस विवाद से अलग रहो, वरना इसके परिणाम गम्भीर होगें। दोनों पति, पत्नी परिवादी व परिवार की रैकी करवा रहे है।  22 सितंबर को परिवादी को मोबाईल नम्बर  कॉल आया ( टूकॉलर पर युनुस अली नाम) जिसने परिवादी से भूमि से सम्बन्धित बातचीत की और नाम पते पूछे थे।  उक्त यह व्यक्ति परिवादी की पारिवारिक पृष्ठ भूमि के बारे में जानना चाहता था। 
इसी प्रकार परिवादी के दोस्त अमित जैन से भी हरिश  जानकारी प्राप्त कर बेंगलोर पवन भंसाली एव ंपिंकी भंसाली को भेज रहा था।  26 सितंबर को सुबह परिवादी के ऑफिस माणिक्य लाल वर्मा कॉलेज रोड़  पर स्थित है,  वहां पर 5-6 लड़के आये और  कर्मचारी से कहा कि संदीप जैन कहा है । उससे कह देना की अपनी हद में रहे वरना जान से हाथ धो बैठेगा।  वो आज कल बैंगलोर बहुत आ जा रहा है। 
  लगभग 4.15 बजे  अजमेर में पंजीकृत स्विफ्ट डिजायर कार तथा अन्य मोटर साईकिलो पर 5-6 लोग आये जिन्होनें परिवादी के कर्मचारी संजय खटीक से  कहा कि तेरा सेठ आया नही क्या ?  उसको कह देना कि भूपेन्द्र सिंह भुवाल मेरा नाम है। दूसरे लड़के ने अपना नाम पृथ्वी सिंह राव तथा तीसरे ने चन्द्र सिंह चारण बताया। उनके साथ अन्य 4 लोग भी थे । इन्होंने कहा कि हमारे पास हथियार है अगर संदीप जैन अपनी जान की सलामती चाहता है तो फिजुल के लफड़े में नही पड़े वो बड़े लोग है। जान भी ले सकते है। यह कहकर भागने लगे तभी आस पड़ौस के लोगों ने दो लोगो को पकड़ लिया।  इन लोगों को परिवादी ने थाने में सुपुर्द कर दिया। पुलिस मामले की जांच कर रही है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत

बेटे का आरोप-ब्लैकमेलिंग से परेशान था मोहम्मद रईस, विषाक्त सेवन कर शिकायत देने गया था एसपी ऑफिस