लॉकडाउन की अनोखी शादी: सरकारी अनुमति से पहली बार शहर में हुए विवाह, मंजूरी वाले परिजन ही शामिल

 भीलवाड़ा (हलचल)। शहर में कफ्र्यू और लॉकडाउन की 26 शर्तों के बीच गांधीनगर में शनिवार को एक अनोखी शादी हुई। शादी में केवल पांच लोग मौजूद थे। सभी ने मास्क लगा रखे थे। पंडित ने भी मास्क पहन मंत्र बोले। गांधी नगर निवासी टीना बोराना से शादी के लिए दूल्हा राहुल सिकलीकर उदयपुर से आया। एक घंटे में ही पंडित ने मंत्र पढ़े, दोनों के फेरे करवाए और दोनों पति-पत्नी हो गए। जिला प्रशासन के नियमों के मुताबिक शादी में पड़ोसी और परिजनों को भी नहीं बुलाया गया। किसी तरह की बिंदौरी, बैंड-बाजे, सजावट, ढोल-नगाड़े, नाच-गाना कुछ भी नहीं हुआ। शादी में वर व वधु पक्ष के पांच लोग ही मौजूद रहे।
सीए दूल्हा-दुल्हन की 3 घंटे में शादी
कोविड-19 में शनिवार को शहर में बिन बैंडबाजा व बारातियों के महज 3 घंटे में सीए दूल्हा-दुल्हन का विवाह हो गया। दूल्हे के परिवार के ज्ञानमल सुराणा ने बताया कि सुबह 11.30 बजे शहर के राजेंद्र मार्ग निवासी दूल्हा तुषार पुत्र योगेंद्र सुराणा पथिक नगर निवासी अनिल डांगी की बेटी सीए आकांक्षा से शादी करने के लिए बहन व चाचा के साथ दो कार से रवाना हुआ। दोपहर 12.15 बजे दुल्हन के घर पहुंचे, जहां सबसे पहले दुल्हन के माता-पिता की मौजूदगी में तोरण की रस्म के बाद वरमाला हुई। उसके बाद पंडित ने फेरे करवाए। विवाह के लिए 30 अप्रैल को कलेक्टर से स्वीकृति ली थी। शनिवार को स्वीकृति की शर्तों की पालना करते हुए यह विवाह हुआ। शादी के वक्त मौके पर लोगों की संख्या बढ़े नहीं इसके चलते दुल्हन के भाई व दादी को दूसरी जगह भेजा।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना