दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन का रूस में रजिस्ट्रेशन कल, देसी कोरोना वैक्‍सीन पर भी गुड न्‍यूज


दुनिया में गहराए कोरोना महामारी संकट के बीच लोगों के मन में एक ही सवाल है कि इस घातक वायरस की वैक्सीन कब आएगी? तो शायद इस सवाल का जवाब मिल गया है. दुनियाभर के विशेषज्ञ अपनी वैक्सीन के दूसरे और तीसरे चरण में पहुंचे हैं, वहीं रूस ने वैक्सीन बनाने का दावा कर दिया है. इतना ही नहीं रूस 12 अगस्त को वैक्सीन का पंजीकरण कराया जाएगा. रूस के दावों पर गौर करें तो ये वैक्सीन दुनिया की पहली कोरोना वैक्सीन होगी!


आईसीएमआर की कोविड वैक्सीन बीबीवी-152 (कोवैक्सीन) की पहली डोज का ह्यूमन क्लीनिकल ट्रायल का परिणाम सुखद रहा है. कानपुर में 33 वालंटियर्स को वैक्सीन की पहली डोज लगाई गई थी. डोज देने के 11 दिन के बाद भी सभी वालंटियर्स स्वस्थ हैं. सिर्फ दो ने वैक्सीन लगाए जाने वाली जगह पर लालिमा आने की जानकारी दी है. शेष किसी भी तरह की कोई शिकायत नहीं की. अब सभी के एंटी बॉडीज टाइटर टेस्ट के लिए ब्लड सैम्पल लेकर वैक्सीन की दूसरी डोज 13 व 14 अगस्त को लगाई जाएगी. बता दें कि आईसीएमआर ने वैक्सीन के क्लीनिकल ट्रायल के लिए कानपुर के प्रखर हॉस्पिटल का चयन किया है. ट्रायल टीम के चीफ गाइड डॉ. जेएस कुशवाहा के अनुसार सभी 33 वालंटियर्स पर वैक्सीन की पहली डोज लगने के बाद आए बदलावों की एक रिपोर्ट आईसीएमआर को भेजी गई है.



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग