Thursday, April 15, 2021

ध्वस्त हो गए कोरोना के सभी रिकॉर्ड, एक दिन में 2 लाख नए केस, मौत का ग्राफ भी बढ़ा, क्या अब लॉकडाउन ही है आखिरी विकल्प?

 


दिल्ली ।भारत में कोरोना वायरस के कहर ने अब तक के सभी रिकॉर्डों को ध्वस्त कर दिया है। देश में कोरोना का कहर कितना विकराल हो चुका है, इसका अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि अब एक दिन में संक्रमण मिलने का आंकड़ा दो लाख तक पहुंच गया है। भारत में बुधवार को कोरोना वायरस के एक दिन में करीब दो लाख नए पॉजिटिव केस सामने आए हैं। वहीं, मौत के मामलों में भी लगातार इजाफा देखने को मिल रहा है। इस तरह से कोरोना की दूसरी लहर लगातार नए-नए रिकॉर्ड स्थापित कर रही है, जो डरावनी तस्वीर पेश कर रही है। 

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, देश में बुधवार रात तक संक्रमण के 199,569 नए मामले दर्ज किए गए। यह महामारी की शुरुआत से लेकर अब तक एक दिन में मिलने वाले नए कोरोना संक्रमितों का सर्वाधिक आंकड़ा है। पहली लहर में भी कोरोना का यह विकराल रूप देखने को नहीं मिला था, जितना आज के दिनों में देखने को मिल रहा है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इस अवधि में 1037 लोगों की मौत हो गई। अब तक के कुल संक्रमितों की संख्या बढ़कर 14070300 हो गई है। कोरोना से पीड़ित लोगों के ठीक होने की दर और गिरकर 89.51 प्रतिशत रह गई है। 

आंकड़ों पर गौर किया जाए तो महामारी से मरने वालों की कुल संख्या 1,73,152 हो गई है। उपचाराधीन लोगों की संख्या भी बढ़कर 1365704  हो गई है, जो संक्रमण के कुल मामलों का 9.24 प्रतिशत है। अब तक 12426146 कोरोना मरीज ठीक हो चुके हैं, कोरोना मृत्यु दर 1.24 प्रतिशत है। देश में एक्टिव केसों की संख्या 1465877 है। बता दें कि लगातार 36वें दिन कोरोना के मामलों में देश में बढ़ोतरी देखी जा रही है। इस बीच सरकारें भी कोरोना पर काबू पाने के लिए कई तरह की पाबंदियां लगा रही हैं, मगर जिस रफ्तार से कोरोना बढ़ रहा है, ऐसे में सवाल उठ रहे हैं कि क्या अब लॉकडाउन ही आखिरी विकल्प बचा है?

गजब है... नकली रेमडेसिविर लेने से ठीक हो गए 90 फीसदी कोरोना मरीज, पुलिस भी हैरान

  भोपाल ।कोरोना की दूसरी लहर में रेमडेसिविर इंजेक्शन की मांग में एका-एक बढ़ोतरी हो गई है। हालांकि, इस बीच कई राज्यों में नकली रेमडेसिविर बेच...