बीके ईश्वरीय विश्वविद्यालय में होली स्नेह मिलन आयोजित

 

चित्तौडग़ढ़ (हलचल)। बीके ईश्वरीय विश्वविद्यालय की स्थानीय शाखा में होली स्नेह मिलन का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में सेन्टर संचालिका आशा बहन ने सभी को राजयोग का अभ्यास करवाया। उन्होंने होली का अध्यात्मिक महत्व बताते हुए कहा कि होली एक पवित्रता का त्योहार है जो हमें आपस में प्यार व स्नेह से रहना सिखाती है और हमारे अन्दर विकारों का किचड़ा है उसको परमात्मापिता की याद से भस्म करना है और सबके प्रति शुभभावना व शुभकामना रखनी है। सबको परमात्मा का संदेश देना है। मार्च में शरीर छोडऩे वाली आत्माओं को श्रद्धांजलि दी गई। इस दौरान बीके अनिता, सरस्वती शर्मा, ऐश्वर्या, बालकिशन, मनोज, बेला, नाथूलाल, किरन कंवर व देवेंद्र सिंह मौजूद थे।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना