बटेर पालन से करें आजीविका में सुधार: डॉ. चौधरी

 


भीलवाड़ा (हलचल)। कृषि विज्ञान केन्द्र अरणिया घोड़ा शाहपुरा की ओर से जहाजपुर पंचायत समिति के गणेशपुरा में बटेर पालन विषय पर एक दिवसीय कृषक प्रशिक्षण का आयोजन किया गया। प्रशिक्षण में पशु उत्पादन विभाग, राजस्थान कृषि महाविद्यालय, उदयपुर के प्रोफेसर एवं बटेर परियोजना प्रभारी डॉ. जेएल चौधरी ने किसानों से आह्वान किया कि बटेर पालन द्वारा अपनी आर्थिक स्थिति मजबूत करें। डॉ. चौधरी ने बटेर के रख-रखाव, प्रमुख नस्लें, आवास एवं आहार प्रबन्धन की तकनीकी जानकारी दी। 
केन्द्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं अध्यक्ष डॉ. सीएम यादव ने कृषक हितार्थ केन्द्र की गतिविधियों से अवगत कराते हुए जिले के जनजातीय क्षेत्र में केन्द्र द्वारा आयोजित प्रशिक्षणों, प्रदर्शनों एवं प्रसार गतिविधियों के बारे में बताया। डॉ. यादव ने बटेर पालन के साथ-साथ मुर्गी पालन हेतु प्रतापधन, अंकलेश्वर, कड़कनाथ एवं चेब्रों नस्ल की मुर्गी पालने पर बल दिया। शस्य वैज्ञानिक डॉ. के. सी. नागर ने उन्नत किस्म के बीज उत्पादन पर जोर देते हुए नेपियर घास, वर्मी कम्पोस्ट, वेस्ट डीकम्पोजर, मिनरल मिक्सर की उपयोगिता एवं उपलब्धता की जानकारी दी। फार्म मैनेजर गोपाल टेपन ने वैश्विक महामारी कारोना से बचाव करने हेतु सामाजिक दूरी का निर्वहन करते हुए कृषि कार्य करने की सलाह दी।  प्रशिक्षण में 35 कृषकों ने भाग लिया जिन्हें प्रति कृषक 20 बटेर उपलब्ध करवाए गए। कृषकों को बटेर के आहार हेतु दाना भी उपलब्ध करवाया गया।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !