Thursday, April 15, 2021

टोलनाकों से नहीं गुजरते, चोर रास्तों को चुनते हैं तस्कर

 

 भीलवाड़ा हलचल। अफीम, डोडा-चूरा या कोई और मादक पदार्थ। इनकी तस्करी में लिप्त तस्कर मादक पदार्थ परिवहन के दौरान टोलनाकों से नहीं गुजरते। ये तस्कर चोर रास्तों से गुजरते हुये अपनी मंजिल तक पहुंचते हैं। यह खुलासा, पिछले दिनों पुलिस पर फायरिंग के मामले की जांच के दौरान हुआ। पुलिस ने सभी रुट पर स्थित टोलनाकों पर छानबीन की, लेकिन किसी टोल नाके पर इन तस्करों की गाडिय़ों के फुटेज नहीं मिले। ऐसे में माना जा रहा है कि ये शातिर तस्कर मुख्य मार्गों के बजाय चोर रास्तों से गुजरते हैं। 
सूत्रों के अनुसार, पिछले दिनों चार वाहनों में सवार तस्करों ने कोटड़ी व रायला पुलिस पर फायरिंग की। इससे दोनों थानों के दो जवान शहीद हो गये थे। इस वारदात ने पुलिस महकमे में खलबली मचा दी। पुलिस  ने छानबीन शुरू की। तस्करों का सुराग ढूंढने के लिए पुलिस ने मुख्य मार्गों पर स्थित टोल नाकों पर छानबीन कर फुटेज देखे, लेकिन किसी टोल नाके पर इन तस्करों के वाहन फुटेज में कैद नहीं मिले। ऐसे में पुलिस का मानना है कि तस्करों ने तस्करी के लिए अलग रास्ते बना रखे हैं, जो मुख्य मार्गों से अलग है।  अमुमन इन रास्तों पर पुलिस की आवाजाही भी कम ही होती है। इसी का फायदा ये तस्कर बखुबी उठाते हैं। सूत्रों का कहना है कि पुलिस अपराध और तस्करी रोकने के लिए ज्यादातर हाइवे पर ही नाकाबंदी करती है और तस्कर इन रास्तों के बजाय अपने चुने हुये चोर रास्तों से बेखौफ होकर अपने ठिकानों तक पहुंच जाते हैं।  

भीलवाड़ा में कोरोना का महाब्लास्ट, 407 नये पॉजिटिव, मांडल, बापूनगर, मांडलगढ़ बने हॉट स्पॉट

   भीलवाड़ा हलचल। भीलवाड़ा में कोरोना का शनिवार को महाब्लास्ट हुआ है। कोरोना ने पुराने सभी रेकार्ड तोडते हुये अपना रौद्र रुप दिखाया है। शनिव...