दशा माता से मांगी परिवार की सुख-समृद्धि

 

भीलवाड़ा (विजय गढ़वाल/संपत माली)। महिलाओं की आस्था का प्रतीक दशा माता का पर्व मंगलवार को मनाया गया। महिलाओं ने परिवार की सुख-समृद्धि व अच्छे स्वास्थ्य की कामना को लेकर व्रत रखा।
इससे पूर्व महिलाएं अन्य महिलाओं के साथ पीपल के पेड़ पर दशा माता की पूजा करने पहुंची। कथा सुनने के बाद पीपल के पेड़ की परिक्रमा की और दशा माता की बेल धारण की। परंपरा है कि दशा माता की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि आती है। नवविवाहिताओं में दशा माता की पूजा को लेकर खासा उत्साह देखने को मिला।

आरसी व्यास सेक्टर 4 ने मनाया दशामाता पर्व

 महिलाओं की आस्था का प्रतीक दशामाता पर्व आर.सी. व्यास सेक्टर 4 की महिलाओं द्वारा कोविड गाईडलाईन को ध्यान में रखकर मास्क पहनकर व सोशल डिस्टेसिंग के साथ मनाया गया। आरसी व्यास की मंजू बापना ने बताया कि ऐसा माना जाता है कि दशा माता की पूजा करने से घर में सुख-समृद्धि का वास होता है। सर्वप्रथम महिलाओं द्वारा पीपल के पेड़ पर दशा माता की पूजा की, उसके पश्चात दशा माता की 10 कहानियां जिसमें नल राजा, दमयंती रानी की कथा सुनकर पेड की परिक्रमा की और दशा माता की बेल धारण की।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना