कोरोना रोकथाम को टॉप प्रायरिटी में रखें –जिला कलक्टर


जिला कलक्टर के के शर्मा ने ली कोरोना समीक्षा बैठक, अधिकारियों को दिए कई दिशा-निर्देश
चित्तौड़गढ़ (हलचल)।  जिला कलक्टर के के शर्मा ने कोरोना महामारी रोकथाम को लेकर विभिन्न विभागों के अधिकारियों की बैठक गुरुवार को समिति कक्ष में ली, जहां जिला कलक्टर ने अधिकारियों को दिशा-निर्देश प्रदान करते हुए अधिकाधिक प्रयासों से कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने नगर परिषद आयुक्त को कोरोना पॉजिटिव मरीजों के घर के बाहर अच्छे से बैरिकेडिंग करने और संवेदनशील इलाकों में सेनेटाइज करने के निर्देश दिए। इसी के साथ कलक्टर ने नगर परिषद को अभियान के रूप में मास्क ना पहनने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करते हुए चालान बनाने के निर्देश दिए।
जिला कलक्टर ने चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग को 1 अप्रैल से शुरू हुए 45 वर्ष की आयु से ज्यादा आयु के लोगों के टीकाकरण अभियान में अधिक से अधिक लोगों को लाने और उन्हें टीकाकरण से लाभान्वित करने के निर्देश दिए। इसी के साथ जिला कलक्टर ने डिटेल में कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग करने, कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग की रिपोर्ट का अच्छे से एनालिसिस करने और कोरोना के मरीजों के घर तक दवा पहुंचाने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने यह भी कहा कि कोरोना पॉजिटिव मरीज समस्त गाइडलाइन का पालन करें और कोई कोताही नहीं बरतें, आइसोलेशन पीरियड में आइसोलेट हो कर रहें और बाहर न निकलें।
जिला कलक्टर ने कहा कि हम सभी को मिलकर टीकाकरण का लक्ष्य प्राप्त करना है। जिला कलक्टर ने शिक्षा विभाग के अधिकारियों को वार्ड कमेटियों को एक्टिव रखने और शिक्षकों के माध्यम से लोगों को वैक्सीन हेतु प्रेरित करने के निर्देश दिए। जिला कलक्टर ने बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन पर नियमित रूप से यात्रियों के सेम्पल लेने को कहा। जिला कलक्टर ने निर्देशित किया कि प्रभावी ढंग से घर-घर सर्वे का कार्य किया जाए ताकि कोरोना को फैलने से रोका जा सके। उन्होंने सर्वे हेतु आशा, आंगनवाड़ी कार्यकर्त्ता, अध्यापक और नर्सिंग स्टूडेंट की टीम बनाने हेतु कहा।
जिला कलक्टर ने समस्त अधिकारियों को कहा कि कोरोना रोकथाम हमारी टॉप प्रायरिटी में होना चाहिए, अधिकारी आपसी समन्वय से कार्य करें और इस महामारी को फैलने से रोके। जिला कलक्टर ने यह भी कहा कि पॉजिटिव मरीजों द्वारा सख्ती से होम आइसोलेशन की पालना हो, अगर कोई कोरोना का मरीज होम आइसोलेशन की पालन नहीं कर रहा है तो उसे संस्थागत क्वारंटाइन करें।
बैठक में जिला पुलिस अधीक्षक दीपक भार्गव, अतिरिक्त जिला कलक्टर (प्रशासन) रतन कुमार, अतिरिक्त जिला कलक्टर (भूमि अवाप्ति) अंबालाल मीणा, जिला परिषद मुख्य कार्यकारी अधिकारी ज्ञानमल खटीक, उपखंड अधिकारी श्यामसुंदर विश्नोई, पुलिस उपाधीक्षक मनीष कुमार शर्मा, जिला रसद अधिकारी विनय कुमार, नगर परिषद आयुक्त रिंकल गुप्ता, सीएमएचओ डॉ रामकेश गुर्जर, सीडीओ अरुण दशोरा, डीईओ प्रारंभिक कल्याणी दीक्षित, डीईओ माध्यमिक शांतिलाल सुथार, पीआरओ प्रवेश परदेशी सहित विभिन्न विभागों से आए हुए अधिकारी मौजूद रहे।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक