जोगणिया माता: नवरात्र में केवल दर्शन के लिए आ सकेंगे श्रद्धालु, प्रसाद व अन्य सामग्री ले जाने पर रोक

 

मांडलगढ़ (हलचल)। कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए अब जोगणिया माता में श्रद्धालु केवल दर्शन के लिए जा सकेंगे। प्रसाद व अन्य सामग्री मंदिर में ले जाने पर रोक रहेगी। इस आशय का निर्णय जोगणिया माता शक्तिपीठ प्रबंध एवं विकास संस्थान की चैत्र नवरात्र महोत्सव को लेकर आयोजित प्रशासनिक बैठक में लिया गया।
बैठक में बेगूं तहसीलदार गोपाललाल बंजारा व रेवेन्यू इंस्पेक्टर किशोर कुमार ने कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए सरकार की ओर से जारी नई गाइडलाइन की जानकारी दी। इस पर बैठक में निर्णय लिया गया कि नवरात्र में कोरोना गाइडलाइन की पालना करते हुए श्रद्धालुओं को मंदिर में दर्शन की अनुमति दी जाएगी। प्रसाद, श्रंगार प्रसाधन व अन्य सामग्री ले जाने पर रोक रहेगी। स्टेज प्रोग्राम व मेले का आयोजन नहीं किया जाएगा। घट स्थापना व ध्वजारोहण का सामान्य कार्यक्रम होगा। संस्थान की ओर से रोज पूरे मंदिर परिसर को सैनेटाइज किया जाएगा। मंदिर में प्रवेश से पहले श्रद्धालुओं के साबुन से हाथ धुलवाए जाएंगे और बिना मास्क आने वालों को मंदिर में प्रवेश नहीं दिया जाएगा। बैठक में जोगणिया माता पुलिस चौकी इंचार्ज राधेश्याम, जोगणिया माता शक्तिपीठ प्रबंध एवं विकास संस्थान के उपाध्यक्ष सूरजमल मीणा, कार्यकारी अध्यक्ष सत्यनारायण जोशी, राम सिंह चुंडावत, लाल सिंह परिहार, बालूलाल सुथार, रमेश गुर्जर, प्रेमचंद  धाकड़, राम सिंह, शांतिलाल धाकड़, शंकरलाल धाभाई आदि मौजूद थे।

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक