कैसे रुकेगा कोरोना: कृषि उपज मंडी में कोरोना गाइडलाइन की खुलेआम उड़ रही धज्जियां, जिम्मेदारों ने आंखें मूंदी

 

भीलवाड़ा (हलचल)। भीलवाड़ा सहित प्रदेश में कोरोना संक्रमितों की संख्या में खतरनाक रफ्तार से इजाफा हो रहा है। स्थिति की गंभीरता को देखते हुए सीएम अशोक गहलोत रोज बैठकें ले रहे हैं और सख्ती बढ़ाने के निर्देश दे रहे हैं। वहीं भीलवाड़ा में न तो लोग कोरोना को गंभीरता से ले रहे हैं और न ही प्रशासन।
कृषि उपज मंडी में बड़ी संख्या में फल-फ्रूट व सब्जी की बिक्री होती है। वाहनों में बाहर से फल व सब्जियां भी आती हैं। ऐसे में यहां अतिरिक्त सतर्कता बरती जानी चाहिए। इसके उलट यहां लोग कोरोना से बेखौफ घूमते नजर आ जाते हैं। दो गज की दूरी तो दूर की बात रही, लोग तो मास्क तक नहीं लगाते। भीलवाड़ा में जिस तरह से रोज बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित मिल रहे हैं, उसे देखते हुए लोगों की लापरवाही को नजरअंदाज करना सबके लिए भारी पड़ सकता है। उधर, मंडी प्रशासन भी कोरोना संक्रमण को रोकने के प्रयास करते नहीं दिख रहा है। पिछले साल कोरोना को रोकने के लिए भीलवाड़ा में जिस तरह के प्रयास हुए थे, उनसे भीलवाड़ा रोल मॉडल बना था लेकिन इस बार कोरोना की दूसरी लहर के ज्यादा खतरनाक होने के बावजूद लोग व प्रशासन इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं। कोरोना गाइडलाइन के उल्लंघन के ये नजारे केवल कृषि मंडी के नहीं बल्कि शहर सहित जिलेभर के हैं। बाजार, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन और सार्वजनिक स्थानों पर कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन खुलेआम हो रहा है।
 

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक