Thursday, April 15, 2021

घर-घर पूजी गणगौर, की कोरोना से बचाव की कामना

 

सवाईपुर ( सांवर वैष्णव ) सवाईपुर सहित सोपुरा, सालरिया, ढ़ेलाणा, बड़ला, बनकाखेड़ा, चांवड़िया, खजीना, ककरोलिया माफ,  लसाड़िया, रेड़वास आदि गांवों में आज गणगौर माता का पर्व मनाया गया | महिलाएं सज-संवर कर सौलाह सिंगार कर हाथों मे पूजा की थाली सजाएं गणगौर पूजन के लिए मंगल गीत गाती हुई निकली | जहां महिलाओं ने ईश्वर जी व माता गणगौर के विधि विधान पूर्ण पूजा-अर्चना कर कर परिवार में सुख समृद्धि व देश में फैल रहे कोरोना वायरस जैसी महामारी के बचाव की कामना की | महिलाओं ने कोरोना वायरस के संक्रमण ना फैले को लेकर अपने-अपने घरों में माता गणगौर की पूजा-अर्चना की | अंकिता श्रौत्रिय, गायत्री श्रौत्रिय ने कहा की शिव-पार्वती के अटूट बंधन व प्रेम का प्रतीक है गणगौर | वही  खुशियों भरा वैवाहिक जीवन और पति की लंबी उम्र के लिए रखा जाता है गणगौर का व्रत | सोनु श्रोत्रिय व सरिता व्यास ने बताया कि इस दिन कुंवारी लड़कियां और सुहागिन महिलाएं व्रत रखती हैं और शिव पार्वती की पूजा करती हैं | कुंवारी लड़कियां मनचाहा वर के लिए व्रत रखती हैं | सही मायने में यह पर्व आस्था, प्रेम, त्याहग, सौंदर्य व समर्पण का प्रतीक है |