कोरोना वायरस के दूसरी लहर के बीच IIT कानपुर के विशेषज्ञों ने जारी की चेतावनी, भारत में हर रोज आने लगेंगे एक लाख मामले!


दिल्ली ।कोरोना वायरस के दूसरी लहर के बीच देशभर में लगातार बढ़ रहे संक्रमण के मामलों ने आम लोगों के साथ शोधकर्ताओं की चिंता भी बढ़ा दी है. इन सबके बीच, आइआइटी कानपुर के विशेषज्ञों ने अध्ययन के आधार चेतावनी जारी की है. अध्ययन के मुताबिक, एक कोरोना मरीज से संक्रमित होने वाले लोग लगातार बढ़ रहे हैं. लोग ऐसे ही संक्रमित होते रहे, तो भारत में रोजाना एक लाख कोरोना केस का आंकड़ा छू सकता है.

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, आईआईटी कानपुर के विशेषज्ञों ने गणितीय मॉडल के आधार पर चेतावनी जारी की है. अध्ययन में बताया गया है कि एक कोरोना मरीज से संक्रमित होने वाले लोग लगातार बढ़ रहे हैं. फरवरी महीने में यह संख्या शून्य से नीचे थी, जो अब बढ़कर 1.25-1.30 तक पहुंच गई है. बताया गया है कि लोग ऐसे ही संक्रमित हुए, तो जल्द ही भारत में प्रतिदिन एक लाख केस का आंकड़ा छू सकता है. वहीं, दूसरे मॉडल में बताया गया है कि महाराष्ट्र और देश में केस 15 अप्रैल तक बढ़ते रहेंगे. इसके बाद गिरावट शुरू होगी.वहीं, बताया जा रहा है कि लोग मास्क के साथ दूरी बनाकर रखें और वैक्सीन लगवाएं तो इस बढ़त को काफी हद तक थामा जा सकता है. मीडिया रिपोर्ट में आईआईटी कानपुर के साइबर सिक्यॉरिटी हब के प्रोग्राम डायरेक्टर मणींद्र अग्रवाल के अनुसार, कोरोना संक्रमण के मामलों में महाराष्ट्र अगले दो हफ्ते में पीक पर होगा. मॉडल के आधार पर महाराष्ट्र में रोजाना 45-50 हजार केस आ सकते हैं. इसी तरह पंजाब रोजाना 3500 मामलों के साथ पीक पर होगा. जबकि, केरल में अप्रैल मध्य में केस न्यूनतम स्तर पर होंगे. दिल्ली में भी अप्रैल-मई में संक्रमण के 5-6 हजार नए केस रिपोर्ट हो सकते हैं. वहीं, जून के अंतिम हफ्ते में केस फिर न्यूनतम स्तर पर पहुंचने की संभावना है.

Popular posts from this blog

भीलवाड़ा नगर परिषद चुनाव : भाजपा ने 31, कांग्रेस ने 22 और निर्दलीय ने जीती 17 सीटें, बोर्ड के लिए जोड़ तोड़

सिपाहियों के कातिल जोधपुर और बाड़मेर के, एक फौजी भी शामिल !

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक