मरीज की मृत्यु के बाद परिजनों का हंगामा, डॉक्टर के साथ अभद्रता और मारपीट का प्रयास


 

बीकानेर। संभाग के सबसे बड़े अस्पताल पीबीएम में शुक्रवार को हंगामा हो गया। ट्रामा सेंटर में भर्ती मरीज की मौत से गुस्साए परिजनों ने महिला रेजिडेंट डॉक्टर के साथ अभद्रता की। साथ ही उसके साथ मारपीट करने का प्रयास भी किया। घटना के बाद डॉक्टर लामबंद हो गए और आरोपियों को गिरफ्तार करने की मांग कर रहे हैं। जानकारी के अनुसार गंभीर रूप से घायल युवक का ट्रामा सेंटर के आईसीयू में इलाज चल रहा था। शुक्रवार को उसकी मौत हो गई। आईसीयू में महिला रेजिडेंट उसे सीपीआर देकर बचाने का प्रयास कर रहे थे। इसी दौरान मरीज के परिजन आईसीयू में घुस आए। अंदर आते ही उन्होंने रेजिडेंट के साथ अभद्रता और मारपीट करने का प्रयास किया।

महिला रेजिडेंट डॉक्टर नेहा चाहर ने बताया कि मरीज को तीन दिन पहले गंभीर हालत में पीबीएम के ट्रामा सेंटर में भर्ती करवाया गया था। उसकी मौत के बाद परिजनों ने मेरे साथ अभद्रता शुरू कर दी और मुझे मारने के लिए दौड़े। मैंने नर्सिंग स्टाफ के लिए बनाए गए रेस्ट रूम में छिपकर जान बचाई। 

मामले की जानकारी रेजिडेंट डॉक्टरों को लगी तो उन्होंने मौके पर पहुंच कर डॉक्टर को बचाया। रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष डॉ. महिपाल  ने बताया कि आए दिन डॉक्टरों के साथ मरीज के परिजन मारपीट करते हैं। ऐसे हालात से निपटने के लिए अस्पताल में पर्याप्त संख्या में गार्ड भी नही लगाए जाते हैं। उन्होंने डॉक्टरों को सुरक्षा देने की मांग की है। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर