ठेकेदार ने जला दी फर्जी नंबर प्लेट वाली इनोवा, खुद भी जला


भीलवाड़ा हलचल न्यूज.
बहुचर्चित फर्जी नंबर प्लेट की इनोवा कार का मामला उजागर होने के बाद ठेकेदार ने कार को आग लगा दी। इस दौरान ठेकेदार खुद भी झुलस गया। पुलिस ने जली हुई इनोवा को बरामद कर लिया है।
प्रताप नगर थाना प्रभारी राजेंद्र गोदारा ने हलचल को बताया कि 22 अप्रैल को सूचना मिली थी कि सर्किट हाउस में एक ही नंबर की दो इनोवा गाड़ियां खड़ी थीं। दोनों के नंबर आरजे 14 टीडी 8964 लिखे थे। इसकी तस्दीक करने के लिए दीवान विजय सिंह को मौके पर भेजा गया तो एक इनोवा वहां से जा चुकी थी जो नहीं मिली। उसी नंबर की दूसरी गाड़ी जिला कलेक्ट्रेट परिसर में खड़ी मिली। जिस पर उक्त नंबर अंकित थे। इनोवा का चालक सूर्य नगर सुदामा कुटीर गोपालपुरा बाइपास जयपुर निवासी अंगद सिंह था। चालक के पास मिली आरसी में नाम सही था। नंबर प्लेट भी सही पाई गई। इसी नंबर की दूसरी गाड़ी का पता किया तो पता चला कि उक्त फर्जी नंबर की गाड़ी का चालक डालचंद था। साथ ही उक्त फर्जी नंबर की गाड़ी को पंचायत राज विभाग के ठेकेदार समय सिंह के द्वारा पंचायती राज विभाग के अधिकारियों को भीलवाड़ा लाने-ले जाने के लिए भेजी गई थी। जांच में यह पाया गया कि उक्त गाड़ी को सरकारी फंड गैरकानूनी रूप से प्राप्त कर छल करने के उद्देश्य से यह फर्जी नंबर प्लेट लगाई थी। पुलिस ने दीवान विजय सिंह की रिपोर्ट पर मामला दर्ज किया था। इस मामले में एक दिन पहले ही फर्जी नंबर प्लेट वाली गाड़ी के चालक मीरजापुर गंगवाना दौसा निवासी डालचंद पुत्र कैलाश मीणा को पुलिस जयपुर से पकड़कर यहां ले आई जिसे पूछताछ के बाद गिरफ्तार किया गया था। थाना प्रभारी गोदारा ने बताया कि आरोपी से पूछताछ और मामले की जांच के दौरान मुखबिर सूचना पर एक इनोवा कार बापू नगर जयपुर में सुनसान जगह पर जली हुई पड़ी मिली। पुलिस टीम ने मौके पर पहुंच उक्त कार की तस्दीक कर मैसर्स राजधानी ट्यूर एंड ट्रैवल्स के ठेकेदार समय सिंह के ठिकाने पर परिजनों से पूछताछ की तो पता चला कि फर्जी नंबर प्लेट वाली इनोवा को जलाते समय समय सिंह स्वयं जल गया जो घर पर ही इलाजरत है। समय सिंह से भी पुलिस ने पूछताछ की तो पता चला कि घटना के बाद ही ठेकेदार समय सिंह ने इनोवा कार को सुनसान जगह पर ले जाकर आग लगा दी थी जिससे वह स्वयं भी जल गया। पुलिस का कहना है कि समय सिंह के स्वास्थ्य में सुधार होने पर अनुसंधान किया जाएगा। फिलहाल जली हुई इनोवा को बरामद कर भीलवाड़ा लाया गया है। उधर आरोपी डालचंद मीणा ने 22 अप्रैल को ही फर्जी नंबर प्लेट को इनोवा से हटाकर भीलवाड़ा में ही मीरा नगर के पास झाड़ियों में फेंक दिया था जिसे पुलिस ने डालचंद की निशानदेही पर बरामद कर लिया। आरोपी चालक से पूछताछ की जा रही है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर