राजस्थान में हुए शूटआउट की जिम्मेदारी लॉरेंस विश्नोई की विरोधी गैंग ने ली, लिखा- हमने मारा, आगे आगे देखते जाओ!

 


नागौर राजस्थान के नागौर में हुई शूटआउट की जिम्मेदारी लॉरेंस विश्नोई  की एनटी गैंग ने ली है। इस गैंग के पास खुद के तीन सौ से ज्यादा शूटर है जो सीधे सिर में गोली मारते हैं। नागौर में कल दोपहर गैंगस्टर संदीप शेट्टी की हत्या भी इसी तरह से हुई है। उसकी कनपटी में गोली मारी गई है और मौके पर ही उसकी मौत हो गई। लोग उसकी मदद नहीं कर सकें इसके लिए आसपास मौजूद तीन चार अन्य लोगों को भी गोली मार दी गई। संदीप का शव लेने के लिए उसके परिवार के लोग हरियाणा से आज नागौर पहुंच रहे हैं। नागौर को पुलिस छावनी में बदल दिया गया है। लोकल पुलिस का मानना है कि ये भी संभव है कि संदीप को मारने के लिए लोकल बदमाशों का सहारा लिया गया हो, हांलाकि चार बदमाशों की पहचान हो चुकी है जो सीसीटीवी फुटेज में दिखाई दे रहे हैं। 

लॉरेंस ग्रुप की एनटी गैंग बंबीहा - चौधरी गैंग ने ली जिम्मेदारी
अब बात दो बड़ी गैंग के गैंगस्टर्स की....। पहली गैंग हैं लॉरेस विश्नोई गैंग जिसको पिछले दो तीन साल में राजस्थान में बहुत ज्यादा दखल हो चुका हैं । लॉरेंस को तिहाड़ जेल में है। उसके कुछ साथी फरार हैं और कुछ विदेश मंें हैं। अब दविंदर  बंबीहा गैंग की बात... बंबीहा को 2016 में पंजाब पुलिस ने ढेर कर दिया था। उसके साथी कौशल चौधरी को दिल्ली में पकडा गया था, बताया जा रहा है कि वह दिल्ली तिहाड जेल में हैं। लेकिन बंबीहा गैंग के काफी बदमाश फरार चल रहे हैं। उनमें अधिकतर शूटर हैं जिनका दिल्ली, पंजाब, हरियाणा और राजस्थान में ठिकाना हैं। 

संदीप को क्यों मारा गया....ये रहा इसका जवाब
दरअसल संदीप शेट्टी उर्फ विश्नोई लॉरेंस गैंग के लिए भी काम करता था। लॉरेंस के राजस्थान के साथी राजू फौजी , जिसने दो पुलिसवलों को गोली मार दी थी। राजू की फरारी काटने में संदीप ने बहुत साथ दिया था। ऐसा करने के लिए उसे लॉरेंस ने कहा था। लॉरेंस, राजू के जरिए राजस्थान मंे अपनी पकड और ज्यादा मजबूत करना चाहता था। संदीप लगातार राजू की मदद कर रहा था। संदीप को सबक सिखाने के लिए बंबीहा गैंग कोशिश कर रहा था और आखिर नागौर में उसकी हत्या कर दी गई। दो दिन पहले ही वह जेल से जमानत पर छूटा था और जमानत पर बाहर आते ही उसका काम तमाम कर दिया गया। 

राजस्थान पुलिस के ADG वीके सिंह का कहना है कि आरोपियों की पहचान कर ली गई है। जल्द ही पकड़ने की कोशिश की जा रही है। कौन किस गैंग के लिए काम कर रहा है, कौन किसको मार रहा है...। इस बारे में उनकी गिरफ्तारी के बाद ही पता चल सकेगा।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

कार खड़े ट्रक से टकराई भीलवाड़ा के एक ही परिवार के तीन लोगों सहित 4 व्यक्तियों की मौत

फार्म हाउस पर छापा, भीलवाड़ा -चित्तौड़गढ़ जिले के 31 जुआरी गिरफ्तार सात लाख से ज्यादा की नकदी बरामद

कपड़ा व्यवसायी के घर चल रहा था सेक्स रैकेट , 2 लड़कियां सहित 6 हिरासत में