2 संक्रमितों की हिस्ट्री आई सामने- अहमदाबाद में एक ही कमरे में रह रहे थे 6 लोग

 भीलवाड़ा हलचल। शुक्रवार को कोरोना संक्रमित पाये गये रायपुर के गोपाल प्रजापत व गोमा का बाडिय़ा, सेणूंदा के विनोद प्रजापत की ट्रेवलिंग हिस्ट्री तो सामने आई है, लेकिन संक्रमण सॉर्स सामने नहीं आया है। अहमदाबाद में इनमें से एक मार्बल फिटिंग कार्य करता है तो दूसरा नाश्ते की दुकान पर काम कर रहा था। 
बेटे को दिखाने निजी अस्पताल गया था गोपाल, होटल पर पी थी चाय
रायपुर के गोपाल प्रजापत की ट्रेवलिंग हिस्ट्री सामने आई है। गोपाल, अहमदाबाद के सद्गुरु फ्लैट सी 404 में रहता है। वह मार्बल फिटिंग का काम करता है। लॉक डाउन में वह घर में रहा। 23 व 24 मार्च को बेटे को दिखाने झील अस्पताल गया था। 2 मई को 5 बजे गोपाल, परिवार, भाई दिनेश के साथ अलग-अलग बाइक से हिम्मतनगर होते हुये अपने घर के लिए रवाना हुआ। उदयपुर में एक होटल पर चाय की दुकान पर चाय पीने रुके। 3 मई को रायपुर अस्पताल में स्क्रीनिंग की गई। दूसरे दिन गोपाल को जांच के लिए बुलाया, फिर घर भेज दिया। 4 मई को जिला अस्पताल में जांच करने के बाद पवन धाम क्वारेंटाइन सेंटर में भेज दिया। 
एक ही कमरे में रहते हैं 6 लोग 
गोमाजी का बाडिय़ा, सेणूंदा का संक्रमित विनोद प्रजापत अहमदाबाद में विन्धयोल रोड स्थित हरिओम पार्क सोसायटी के मकान नंबर 51 में रहता है। वह कांकरिया में पोहा और नाश्ता की दुकान पर काम करता। इसके अलावा घोड़ासर और असलानी में लॉरी लगाता है। इसी पते पर विनोद का सेठ कैलाश प्रजापत के परिवार के साथ रहता है। इस घर में एक ही कमरे में 6 लोग रहते हैं। लॉकडाउन में वह घर में ही रहा। 2 मई की रात साढ़े दस बजे सेठ कैलाश के साथ बाइक व कैलाश के परिवार के लोग कार से घर के लिए रवाना हुये।  3 मई को शाम साढ़े सात बजे नाथद्वारा से दस-बारह किलोमीटर पहले कार का टायर पंक्चर हो गया। रात्रि में वहीं खाली पड़ी होटल में रुके। 4 मई की शाम चार बजे रायपुर पहुंचे। इसके बाद वह भाई के साथ रायपुर हॉस्पीटल गया और स्क्रीनिंग करवा घर चला गया। 5 मई को करेड़ा अस्पताल से जिला अस्पताल भेजा, जांच के बाद परी रिसोर्ट में क्वारेंटीन कर दिया गया। 8 मई को पुन: जांच के लिए लाया गया और भीलवाड़ा में क्वारेंटीन कर दिया। 
16 लोगों के संपर्क में आया, 5 को माना हाई रिस्क  
संक्रमित विनोद प्रजापत 16 लोगों के संपर्क में आया। इनमें परिवार के लोगों के साथ ही सेठ कैलाश प्रजापत, उसका परिवार, जिस कार से आये उसका चालक आदि शामिल हैं। इन सौलह में से 5 लोगों को हाई रिस्क कॉंटेक्ट माना है। 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना