25 जरूरतमंद परिवारो को किया राशन वितरण

डूंगरपुर (विवेक पाराशर)/कौमी एकता की मिसाल एमएमबी ग्रुप जिस प्रकार जरूरतमंद लोगो के लिए सदेव तेयार रह्ता है। इसी प्रकार अन्य संस्थाओं को भी प्रेरणा लेकर हर मुसीबत मे आमजन की सहायता करनी चाहिये। यह उदगार पूर्व राज्य मंत्री व अजमेर शरीफ़ दरगाह के पूर्व चेयरमेन खान असरार अहमद ने आज ग्रुप द्वारा आयोजित राशन वितरण कार्यक्रम मे व्यक्त किये।


उन्होने कहा कि पीड़ितो की मदद ही खुदा की इबादत व भगवान की पूजा है।आज 14मई को कौमी एकता के प्रतिक हजरत किबला मस्तान बाबा की याद में एमएमबी ग्रूप डूंगरपुर कि और से मदरसा सीरत कमेटी में सभी समुदाय के 25जरुरतमंद परिवारों को एक माह का राशन वितरण किया गया। राशन वितरण पूर्व राज्य मंत्री असरार अहमद, हाजी अबदुल गफ्फार, एमएमबी ग्रूप डूंगरपुर के सदर नूर मोहम्मद मकरानी, सीरत कमेटी के सदर अंसार एहमद साहब, हाजी जाकीर हुसैन, मोहन लाल कलाल के हाथों वितरित किया गया।


इस अवसर पर असरार अहमद ने बताया कि ग्रूप ना सिर्फ राशन बल्कि रक्तदान, स्कूल व कालेज में प्याऊ ,सडक सुरक्षा के कार्यक्रम, बच्चों का वार्ड गोद लेकर उसका कायाकल्प, ब्लड डोनेशन हाल का डेकोरेशन आदि कई कार्य भामाशाहो का सहयोग लेकर लगातार पीड़ित मानवता की सेवा में जुटा हुआ है अभी लोक डाउन में ग्रूप की और से 175परिवारों को राशन वितरण, 2500जरूरतमंद लोगों को भोजन वितरित किया गया है जो काफ़ी सरहनीय है।


ग्रूप के सदर नूर मोहम्मद मकरानी ने बताया कि जरूरतमंद लोगों की मदद भी खुदा की इबादत है और ग्रूप लगातार इस और प्रयासरत है भामाशाहो का सहयोग लेकर कर जरूरतमंद लोगों को मदद कर रहा है ग्रूप के सदर नूर मोहम्मद मकरानी ने ने सभी मुस्लिम भाईयों से अपील की है इस साल की ईद को जरूरतमंद लोगों के साथ मनाये और उनकी मदद करे, सरकार द्वारा जारी लोक डाउन की पालना करें बहुत जरूरत होने पर ही घर से बाहर निकले,अपने हाथों को नियमित साबुन व पानी से धोएं, सोशल डिसटेनसीग की पालना करें क्योकि इस बीमारी से बचाव ही इसका उपचार है सीरत कमेटी के सदर अंसार एहमद साहब ने आभार व्यक्त किया गया इस मौके पर साबिर मकरानी  व काफी संख्या में लोग मौजूद थे।


 


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना