अब जहाजपुर में सुबह 8 से शाम 6 बजे तक रोज खुलेंगे बाजार

जहाजपुर (देवेंद्रसिंह राणावत)। पंचायत समिति भवन में आज बाजार खुलने की समय सीमा बढ़ाने और प्रतिदिन बाजार खोलने को लेकर विधायक गोपीचंद मीणा व उपखंड अधिकारी उम्मेद सिंह राजावत के सानिध्य में उपखंड स्तर के अधिकारियों व वार्ड पार्षदों की बैठक हुई। बैठक में सुबह 8 से शाम 6 बजे तक रोज बाजार खोलने का निर्णय लिया गया।
बैठक में निर्देश दिए गए कि लॉकडाउन की पालना करते हुए जो दुकानें अब तक खुलती आई थीं, वे ही दुकानें खुलेंगीं। इससे पूर्व कल विधायक गोपीचंद मीणा ने बाजार का दौरा किया था, जिस दौरान व्यापारियों ने उनसे रोज बाजार खुलाने व समय सीमा बढ़ाने की मांग की थी। व्यापारियों की समस्याओं का समाधान करते हुए बाजार की समय सीमा बढ़ा दिया गया और प्रतिदिन बाजार खोलने का निर्णय लिया गया। ओवरलोड वाहनों पर बाजार में प्रतिबंध रहेगा। बैठक के दौरान पार्षदों ने कहा कि पानी की सप्लाई समय पर नहीं होने से कस्बेवासियों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। विधायक ने शीघ्र समस्या का समाधान कराने का आश्वासन दिया। बैठक में तहसीलदार मुकुंद सिंह शेखावत, विकास अधिकारी संजय मोदी,  एसीबीईओ ओम खटीक, पालिकाध्यक्ष विवेक मीणा, पार्षद राकेश पत्रिया, पार्षद कमल बांगड़, पार्षद अरविंद भुवालिया, अमित गुर्जर, पवन वैष्णव, जितेंद्र जैन सहित अधिकारी, पार्षद व व्यापारी मौजूद थे।
सोशल डिस्टेंसिंग भूले
बैठक के दौरान पंचायत समिति भवन में आए पार्षद व व्यापारी सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करते नहीं दिखे। बैठक के दौरान सबने मास्क तो लगा रखा था लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग की पालना करना भूल गए। इस पर प्रशासन की अतिरिक्त जिम्मेदारी बन गई है कि बाजार खुलने के दौरान व्यापारियों व ग्राहकों से सोशल डिस्टेंसिंग की पालना कराई जाए।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना