अद्भुत शादी, दूल्हा-दुल्हन ने लकड़ी के सहारे पहनाई एक-दूसरे को वरमाला

धार।
लॉकडाउन के दौरान अजीबोगरीब तरीके से शादी भी हो रही है। अभी तक आपने दूल्हा-दुल्हन मास्क पहनकर और कम मेहमानों के बीच शादी करते देखा होगा। लेकिन एमपी में सोशल डिस्टेंसिंग के लिए दूल्हा-दुल्हन ने लकड़ी का सहारा लिया और लकड़ी के सहारे ही एक-दूसरे को वरमाला पहनाई। सोशल मीडिया पर अब शादी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल है।



दरअसल, ये शादी मध्यप्रदेश के धार जिले में हुई है। यहां के जगदीश मंडलोई की बेटी भारती मंडलोई की सगाई अमझेरा निवासी डॉ. करण सिंह निगम के पुत्र डॉ. राजेश निगम के साथ हुई थी। उनकी शादी की तारीख 30 अप्रैल तय हुई थी। शादी के कार्ड भी बांट दिए गए थे। लेकिन लॉकडाउन बढ़ने के कारण कारण शादी 30 अप्रैल को नहीं हो पाई थी।



  




तय तारीख के दिन दूल्हा और दुल्हन के परिवार वाले और दोनों तरफ के मुखिया ने आपस में बात कर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए मंदिर में शादी करवाने का फैसला लिया। शादी में ज्यादा भीड़-भाड़ न रहे, इस बात का ध्यान रखते हुए इस शादी को गांव से दूर एक हनुमान मंदिर में कुछ लोगों की उपस्थिति के बीच करवाया गया।

सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया
लड़की के पिता ने कहा कि मैंने अपनी बेटी की शादी लॉकडाउन के बीच 30 अप्रैल को सोशल डिस्टेसिंग का पालन करते हुए करवाई। पहले मंदिर को सैनिटाइज किया गया फिर सभी रीति-रिवाजों के साथ शादी हुई। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए दोनों ने लकड़ी से एक दूसरे को माला पहनाई।

शादी की हो रही चर्चा
लॉकडाउन के बीच धार जिले में एक अद्भुत शादी देखने को मिली जिसमें रिश्तेदारों की मौजूदगी में दूल्हा-दुल्हन एक-दूसरे को लकड़ी की मदद से माला पहनाई। शादी का वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल है। साथ ही मजे लेकर लोग वीडियो भी शेयर कर रहे हैं।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना