चाहे जितनी गर्मी पड़े, फिर भी मत करना ये 5 काम, वरना कोरोना...

कोरोना वायरस को लेकर एक स्टडी में दावा किया गया था कि गर्मी का मौसम में कोरोना वायरस का असर कम होता जाएगा। मई की शुरुआत हो चुकी है। ऐसे में दुनियाभर के कई देशों में गर्मी का मौसम आ चुका है लेकिन कहीं भी गर्मी में कोरोना को लेकर राहत नहीं मिली है। हालांकि कई अध्ययनों में इस दावे का खंडन किया गया और बताया गया कि मौसम में परिवर्तन का इस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ता है। 


 


कुछ लोग इस उम्मीद में भीषण गर्मी का इंतजार कर रहे हैं कि इससे कोरोना खत्म का प्रसार बंद हो सकता है। आपको बता दें कि एम्स के डायरेक्टर ने चेतावनी दी है कि जून में यानी भीषण गर्मी में इसका कहर चरम पर होगा। अब सवाल यह है कि क्या वाकई गर्मी में कोरोना खत्म हो सकता है? खैर, फिलहाल कोरोना का प्रकोप थमता नहीं दिख रहा है इसलिए आपको गर्मियों में कुछ जरूरी बातों का ध्यान रखना चाहिए जिससे आपको मौत के इस वायरस से लड़ने में मदद मिल सकती है। 


 


ठंडे पेय पदार्थों का सेवन


गर्मियों के मौसम में ठंडे पेय पदार्थों का सेवन बढ़ जाता है। फ्रिज का ठंडा पानी, शिकंजी, मैंगो शेक, गन्ने का ठंडा रस, छाछ, लस्सी ऐसी चीजें हैं, जिन्हें गर्मियों में खूब पिया जाता है। आपको बता दें कि यह सभी ठंडी चीजें आपके गले के लिए नुकसानदायक हो सकती हैं। बताया जा रहा है कि कोरोना वायरस गले को ज्यादा प्रभावित करता है और यही वजह है कि एक्सपर्ट्स गले को साफ रखने की सलाह दे रहे हैं। इसलिए अगर आप इन चीजों का सेवन कर रहे हैं, तो चेक कर लें कि वो ज्यादा ठंडी तो नहीं हैं।


 


एसी चलाना


कई अध्ययनों में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस एसी की हवा के जरिये भी प्रसारित हो सकता है। हालांकि कई रिसर्च में कहा गया है कि यह एक अफवाह है। हालांकि यह थोड़ा मुश्किल है कहना, विंडो एसी का इस्तेमाल करना ठीक है, लेकिन सेंट्रल एयरकंडीशनिंग से दिक्कत हो सकती है। एक्सपर्ट्स मानते हैं कि एसी चलाने में कोई दिक्कत नहीं है अगर वो विंडो एसी हो, जहां बड़ी इस्टैब्लिशमेंट है, हॉस्पिटल हैं जहां सेंट्रल एसी हैं, वहां पर दिक्कत हो सकती है, जहां पॉजिटिव मरीज रखे जाते हैं, लेकिन घर में विंडो एसी चलाने में कोई दिक्कत नहीं है।


 


ठंडे पानी से नहाना


गर्मियों में ठंडे पानी से नहाने में किसे मजा नहीं आता है लेकिन अब आपको अपनी इस आदत को बदल देना चाहिए। एक्सपर्ट्स बार-बार यही सलाह दे रहे हैं कि अगर आप किस वजह से बाहर जा रहे हैं तो वापस लौटने पर आपको गर्म पानी से स्नान करना चाहिए। नहाते समय साबुन का इस्तेमाल करें, इससे वायरस को खत्म करने में मदद मिल सकती है। बेशक गर्मियों में यह काम थोड़ा मुश्किल है लेकिन अगर जान प्यारी है, तो यह करना हो होगा। 


 


धूप में घूमना


क्या गर्मी से कोरोना वायरस मर जाएगा? इस सवाल को लेकर अभी मतभेद है क्योंकि कई संक्रमणों में दावा किया गया है कि कोरोना वायरस गर्मी में ख़त्म हो सकता है जबकि कई अध्ययन इसका विरोध करते हैं। यह सोचकर कि वायरस गर्मी से खत्म हो जाएगा, आपको लंबे समय तक धूप में जाने से बचना चाहिए। एक्सपर्ट्स मानते हैं कि अभी इस बात का कोई स्पष्ट तथ्य नहीं है कि धूप में कोरोना खत्म हो ही जाए। ऐसा करने से आपकी स्किन डैमेज हो सकती है। 


 


ठंडी चीजों का सेवन


ठंडी चीजें आपके गले को खराब कर सकती हैं। बेशक गर्मियों में ठंडे फल, दही, आइसक्रीम जैसी चीजों को खाने में मजा आता है लेकिन आपको सतर्क रहना चाहिए और अपने खाने-पीने की आदतों में सुधार करना चाहिए। ध्यान रहे कि इन चीजों के बजाय आयुर्वेदिक काढ़ा, हल्दी वाला दूध, गर्म चाय और कॉफ़ी आदि का सेवन करें, यह चीजें गले में कफ बनने से रोकती हैं और इम्युनिटी सिस्टम को मजबूत करती हैं।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना