लॉकडाउन में हजामत नहीं बनाई तो नाई को ही मार डाला!

बिहार के बांका जिले में सुबह-सुबह सनसनी फैल गई। यहां के एक गांव में रविवार को लोगों को एक लाश मिली। ये लाश गांव के ही एक नाई की थी। लेकिन हत्या के बाद पुलिस के सामने मृतक नाई की पत्नी ने जो कहा है उससे हड़कंप मच गया है।
'पति ने बाल-ढाढ़ी नहीं बनाया तो कर दी हत्या'
बांका जिले में अमरपुर थाना इलाके के नवटोलिया के रहने वाले नाई दिनेश ठाकुर की मैनमा इलाके में दुकान है। दिनेश की लाश मिलने के बाद उसके घर में मातम पसर गया है। दिनेश ठाकुर का शव उसकी दुकान के पास यानि मैनमा में ही मिला है। मृतक की पत्नी मूसी देवी ने आरोप लगाया है कि उसके पति की हत्या इसलिए की गई क्योंकि उसने गांव के कुछ लड़कों की हजामत करने से मना कर दिया था। नाई दिनेश ठाकुर ने आरोपियों को लॉकडाउन का हवाला देकर दुकान खोलने से मना किया था।

घर से बुलाकर की गई नाई की हत्या
लॉक डाउन में दुकान खोलने से इनकार करने पर दिनेश ठाकुर को काफी दिन से गांव के ही युवक विपिन, विलास और कालू धमकी दे रहे थे। वो इस बात से नाराज थे कि दिनेश लॉकडाउन में उनकी बाल और ढाढ़ी की कटिंग नहीं कर रहा था। जबकि दिनेश का कहना था कि ऐसा करने पर कोरोना  फैलने की संभावना भी बन सकती है। शनिवार को आरोपी विपिन और कालू समेत कुछ युवक दिनेश को घर से बुलाने आए। लेकिन देर रात तक दिनेश घर से नहीं लौटा। सुबह में जब उसकी तलाश शुरू की गई तो मैनमा इलाके के कुशहा पोखर में दिनेश की लाश मिली। पत्नी ने नाई दिनेश ठाकुर की हत्या में 7 नामजद आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराई है।

जिले के एसपी ने दी जानकारी
बांका के एसपी अरविंद कुमार गुप्ता के मुताबिक इस केस में मृृतक की पत्नी के लगाए गए आरोप के आधार पर जांच की जा रही है। वहीं केस के सातों आरोपियों को हिरासत में लेकर पूछताछ भी की जा रही है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना