लॉकडाउन: मृत्युंजय सेवा संस्थान के पदाधिकारियों ने बदली खाली पड़े प्लॉटों की दशा, लगाए 40 पौधे


भीलवाड़ा (हलचल)। रचनात्मकता किसी परिचय की मोहताज नहीं होती। कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए लगाया गया लॉकडाउन कई लोगों को परेशानी भरा समय लग रहा है लेकिन व्यक्ति चाहे तो वह इस समय का सदुपयोग कर सकता है। बस आवश्यकता इस बात की है कि उसमें रचनात्मकता होनी चाहिए। वैसे तो कई लोगों ने घर बैठे अपनी रचनात्मकता दिखाई है जो उसके लिए या उसके परिवार के लिए रही लेकिन मृत्युंजय सेवा संस्थान के पदाधिकारियों ने रचनात्मकता दिखाई है, उससे आने वाले समय में कई लोगों को फायदा होने वाला है।
मृत्युंजय सेवा संस्थान के अध्यक्ष भरत कुमार व्यास ने भीलवाड़ा हलचल को बताया कि संस्थान के पदाधिकारियों ने लॉकडाउन के समय का सदुपयोग करते हुए ए सेक्टर पंचवटी में स्थित दो खाली भूखंडों की अपने स्तर पर पहले तो अच्छी तरह सफाई की और उसके बाद उसमें विभिन्न किस्म के 40 पौधे रोपे, जो आने वाले समय में छायादार पेड़ बनेंगे। इससे यहां लोगों को शुद्ध हवा के साथ छाया भी मिल सकेगी। व्यास ने बताया कि इस कार्य में सभी लोगों ने सोशल डिस्टेंसिंग का पूरा ध्यान रखा वहीं प्रशासन की गाइडलाइन फॉलो करते हुए मास्क भी लगाकर रखे। इस कार्य में संस्थान के उपाध्यक्ष शोभालाल शर्मा, सचिव नारायणलाल शर्मा, कोषाध्यक्ष हस्तीमल जैन, संरक्षक गोवर्धन यादव, दिनेश जोशी व जमनालाल जीनगर ने सहयोग किया।   



टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना