विटामिन डी की कमी के कारण Covid 19 से मौत का खतरा ज्यादा

विशेषज्ञों ने शरीर में विटामिन डी की कमी और Covid 19 के बढ़ते केसेस में संबंध खोज निकला है। पहले हुई कुछ स्टडीज के अनुसार, विटामिन डी की कमी और सांस से जुड़े इन्फेक्शन्स में संबंध होने की आशंका थी। हाल ही में हुई एक रिसर्च के अनुसार, विटामिन डी व्हाइट ब्लड सेल्स जिस तरह से काम करते हैं, उसे नियंत्रित करता है। विटामिन डी व्हाइट ब्लड सेल्स को Cytokines नामक सेल्स को बढ़ने से रोकता है जो कोरोनावायरस से ग्रसित रोगियों में अधिक मात्रा में उत्पन्न होते हैं।

इटली और स्पेन दोनों जगहों पर Covid 19 बहुत तेजी से फैला है। हाल ही में हुई एक स्टडी में पाया गया है कि दोनों देशों में विटामिन डी का औसत बहुत कम है। कहा गया है कि इसके पीछे का कारण यह है कि साउदर्न यूरोप में अधिकतर वृद्ध सूरज की किरणों से दूर रहते हैं। सबसे हाई विटामिन डी का स्तर नॉर्दर्न यूरोप में पाया गया है। लिवर आयल एयर विटामिन डी की गोलियां लेने के कारण यहां के लोगों में उच्च विटामिन डी का स्तर देखा गया है।


NBT



ली स्मिथ, एंग्लिया रस्किन यूनिवर्सिटी के अनुसार, विटामिन डी के स्तर और Covid 19 के बीच और विशेष रूप से Covid 19 से हुई यूरोपियन देशों में प्रति व्यक्ति मृत्यु के आंकड़ों का कनेक्शन पाया गया है। रिसर्चर्स के अनुसार, ऐसा पाया गया है कि विटामिन डी सांस से जुड़े इन्फेक्शन्स से बचाता है। इसी के साथ यह भी पता लगा है कि वृद्ध जिनमें विटामिन डी की कमी थी, वही सबसे ज्यादा Covid 19 से प्रभावित हुए है। स्मिथ के अनुसार, पहले हुई एक स्टडी में यह पाया गया है कि अस्पतालों और देखभाल घरों जैसे संस्थानों में 75 प्रतिशत लोगों को विटामिन डी की गंभीर कमी थी। इसी के साथ रिसर्चर्स ने यह भी कहा कि फिलहाल यह स्टडी अभी सीमित है। हर देश में रोगियों की संख्या देश में हुए टेस्ट के नंबर पर आधारित है। इसी के साथ हर देश में इन्फेक्शन से लड़ने के लिए अलग-अलग उपाय किए गए हैं। इस बात पर भी ध्यान देना चाहिए की संबंध होने का मतलब कारण नहीं है।

इन 7 हेल्दी फूड में है हाई विटामिन डी:


NBT



मछली: मछली विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत है। अलग-अलग प्रकार की मछलियों में विटामिन डी की अधिकता पाई जाती है। साल्मन और टूना फिश में अधिक मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है। यह कई तरह की बीमारियों के खतरे को कम कर देता है।


NBT



अंडा: अंडे में कई तरह के विटामिन और प्रोटीन पाए जाते हैं। अंडे को नाश्ते में खाने के लिए भी काफी अच्छा और सेहतमंद फूड माना गया है। रोज एक अंडा खाने से आपके शरीर को 7 प्रतिशत विटामिन डी मिलता है। अंडे के सफेद भाग में विटामिन ए, ई, के और जिंक भी मिलता हैं।


NBT



दूध: अगर आप शाकाहारी हैं तो आप दूध ले सकते हैं। दूध भी विटामिन डी का अच्छा स्त्रोत है। रोज विटामिन डी/दूध का सेवन करने से शरीर को 21 प्रतिशत विटामिन डी मिलता है।


NBT



मशरूम: मशरूम भी एक रिच विटामिन डी वाला फूड है। मशरूम की खेती के समय इन पर सूर्य की किरणें पड़ती हैं और सूर्य की किरणें विटामिन डी का सबसे अच्छा स्त्रोत है। मशरूम में भी बड़ी मात्रा में विटामिन डी पाया जाता है।


NBT



सोया दूध: विटामिन डी विशेष रूप से पशु उत्पादों में पाया जाता है। इस कारण से शाकाहारी और वेगन्स में इसकी कमी पाई जाती है। इस तरह से यह लोग विटामिन डी की कमी के जोखिम में रहते हैं। इसलिए सोया दूध इस पोषक तत्व की कमी को पूरा करता है। इसलिए पौधों पर आधारित फूड जैसे की सोया दूध इस मिनरल का अच्छा स्त्रोत है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना