शपथ ग्रहण समारोह में न सरपंच ने मास्क लगाया न समर्थकों न, सोशल डिस्टेंसिंग की भी उड़ी धज्जियां

भीलवाड़ा (अंकुर हलचल)एक और जहा प्रधानमंत्री जब तक दवाई नहीं मास्क जरूरी है पर जोर दे रहे हैं वही नवनिर्वाचित सरपंच सोशल डिस्टेंसिंग और मास्क नहीं लगा कर  खुलेआम धज्जियां उड़ा रहे हैं। इस कार्यक्रम में डेढ़ सौ से 200 लोग शामिल हुए थे इनके लिए भोज की व्यवस्था भी किए जाने की बात सामने आई है।
ऐसा ही एक मामला आज भीलवाड़ा में दरीबा ग्राम पंचायत के नवनिर्वाचित सरपंच पद के शपथ ग्रहण समारोह में देखने को मिला जहां सरपंच ही नहीं बल्कि कई जनप्रतिनिधि और वहां मौजूद लोगों ने मास्क नहीं लगाया वादा और सोशल डिस्टेंसिंग की तो जमकर धज्जियां उड़ाई गई।
भीलवाड़ा जिले में सुवाणा पंचात समि‍ति की ग्राम पंचायत दरीबा में सरपंच पदभार समारोह में कोरोना गाईड लाइन की खुलकर धज्जियां उडाई गयी।  यही नहीं यहां पर मौजूद उच्‍चाधिकारियों और भाजपा जिलाध्‍यक्ष लादू लाल तेली ने भी इस समारोह में मौजूद लोगों की ओर कोई ध्‍यान नहीं दिया। जिन्होंने मास्क नहीं लगा हुआ था
              ग्राम पंचायत दरीबा सचिव वैभव व्‍यास ने कहा कि आज नवनिर्वाचित सरपंच प्रीति अहीर को पदभार ग्रहण करवाया गया है। मास्‍क नहीं पहनने के सवाल पर व्‍यास ने कहा कि यह सरपंच द्वारा आयोजित कार्यक्रम था। जिसके कारण यह हमारे अधिकार में नहीं आ रहा है। हमने पंचायत भवन में पदभार के दौरान मास्‍क का ध्‍यान रखा था। उल्लेखनीय है कि दरीबा मैं जहां कोविड-19 के नियमों की जमकर धज्जियां उडी वही कुछ दिन पहले खा लिया ग्राम के सरपंच उम्मीदवार ने भी पॉजिटिव होते हुए प्रचार किया था जिससे कई लोग संक्रमित हो गए गांव में इन दिनों नवनिर्वाचित सरपंचों के कार्यभार के समारोह आयोजित हो रहे हैं जहां कोविड-19 की पालना पूरी पराशर नहीं हो पा रही है और जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी में ही प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की अपीलों की धज्जियां उड़ाई जा रही है।
इस संबंध में सचिव वैभव व्यास का कहना था की पंचायत में  सोच सरपंच ने मास्क लगाया था लेकिन यह कार्यक्रम निजी है इसकी जिम्मेदारी हमारी नहीं है।


टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना