23 फरवरी के बाद नहीं हो पाएंगी शादियां


शास्त्रों की परंपरा के अनुसार शुक्र अथवा गुरु अस्त के समय विवाह मुहूर्तों का निषेध माना गया है। शुक्र और गुरु अर्थात बृहस्पति से युवक-युवती के वैवाहिक संबंधों को लेकर बहुत ही विचार किया गया है। जन्मपत्री में शुक्र अथवा गुरु निर्बल होने से भी गृहस्थ जीवन में कहीं ना कहीं परेशानी अवश्य आती है। इसी प्रकार गुरु के अस्त होने पर युवतियों को परेशानी का सामना करना पड़ता है और शुक्र अस्त होने होने पर युवकों को वैवाहिक जीवन में परेशानियां लगी रहती है। 23 फरवरी को गुरु अस्त हो रहे हैं। इसलिए इस दिन से विवाह कार्य भी बंद हो जाएंगे।
संवत 2078 का अंतिम विवाह मुहूर्त 20 फरवरी है। इसके पश्चात 23 फरवरी से 18 मार्च तक गुरु अस्त रहेंगे। इस दौरान वैवाहिक कार्य नहीं हो सकते। 25 मार्च को गुरू उदय होंगे, लेकिन 14 मार्च से सूर्य मीन राशि में आ जाएंगे। इससे एक माह तक का समय मलमास या खर मास का होता है। मलमास में भी वैवाहिक कार्य नहीं होते। ऐसे में ठीक दो महीने के बाद 19 अप्रैल को संवत 2079 का प्रथम वैवाहिक मुहुर्त होगा। संवत 2079 ई में अप्रैल से लेकर जुलाई तक कुल 36 विवाह मुहूर्त रहेंगे। ये विवाह मुहूर्त इस प्रकार से होंगे। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर