स्कूल बस से लोहे के गेट में फंस गया था अनुराग का सिर, बस के अंदर बिखरा खून बयां कर रहा था घटना की भयावहता

 


 

गाजियाबाद

 

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद जिले के मोदीनगर में एक दर्दनाक हादसे में चौथी कक्षा के 10 वर्षीय छात्र अनुराग भारद्वाज की मौत हो गई। दरअसल, दयावती मोदी पब्लिक स्कूल के छात्र ने स्कूल की चलती बस से सिर निकाला और वह लोहे के गेट से टकरा गया। छात्र की मां ने स्कूल के मालिक और मोदी इंडस
के चेयरमैन उमेश कुमार मोदी, स्कूल के प्रधानाचार्य नेत्रपाल सिंह व बस चालक ओमवीर के खिलाफ रंजिश में हत्या करने का मामला दर्ज कराया है। पुलिस ने प्रधानाचार्य व बस चालक को गिरफ्तार किया है। हादसा बुधवार सुबह करीब साढ़े सात बजे स्कूल से 300 मीटर पहले हुआ। बस में सवार अन्य छात्रों के अनुसार अनुराग ने उल्टी करने के लिए सिर खिड़की से बाहर निकाला था। सिर बाहर निकलते ही लोहे के गेट से टकरा गया। 

वहीं, अनुराग की मां ने बताया कि सुबह स्कूल से सूचना दी गई कि बच्चे को चोट लगने के बाद स्कूल ले जाया गया है। वहां डॉक्टर ने उसे मृत घोषित कर दिया। अनुराग मुरादाबाद में सीएमओ आफिस में तैनात नितिन भारद्वाज का इकलौता बेटा था। 
 

विलाप करते परिजन

विलाप करते परिजन 

स्कूल में पांच घंटे हंगामा, तोड़फोड़
छात्र की मौत के बाद परिजन शव लेकर स्कूल पहुंचे। उनके साथ बड़ी संख्या में लोग थे। इन लोगों ने हत्या का केस दर्ज करने की मांग लेकर हंगामा किया। तोड़फोड़ भी की गई। केस दर्ज होने के बाद लोग चालक को उनसे सुपुर्द किए जाने की मांग करने लगे। लगभग पांच घंटे हंगामे के बाद पुलिस अफसरों के समझाने पर शांत हुए।
 

मृतक का फाइल फोटो

 मृतक का फाइल फोटो 

परिजनों का आरोप, बस में ज्यादा बच्चे होने से आई उल्टी
अनुराग के परिजनों का कहना है कि बस में बच्चों की संख्या बहुत ज्यादा थी। इसी से अनुराग का जी मिचलाया और उसे उल्टी आई। नेहा का कहना है कि बस में बच्चों की संख्या ज्यादा होने का उन्होंने कुछ दिन पहले विरोध किया था। इस पर बस चालक से कहासुनी हो गई थी। इसके बाद कई बार विवाद हुआ। उनका आरोप है कि चालक ओमवीर रंजिश मानने लगा है। उन्हें अंदेशा है कि स्कूल प्रबंधन, प्रधानाचार्य और चालक ने इसी रंजिश में बच्चे की हत्या की है।  

 

विलाप करते परिजन

 

लोहे के गेट में फंस गया था सिर
परिजनों ने बताया कि अनुराग बस में कंडक्टर साइड की खिड़की की तरफ बैठा था। बस में अनुराग की तबीयत एकाएक बिगड़ी तो उसने उल्टी करने के लिए अपना सिर खिड़की से बाहर निकाला। इसी दौरान चालक ने हापुड़ रोड पर मोदीपोन पुलिस चौकी से स्कूल की ओर बस गांधी ग्राउंड वाले रास्ते पर मोड़ी तो बस से बाहर निकला अनुराग का सिर वहां लगे लोहे के गेट में टकराकर फंस गया। उसे एक निजी अस्पताल ले जाया गया। वहां से उसे मेरठ रेफर किया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। सुबह करीब पौने 8 बजे अनुराग के परिजनों को सिर में चोट लगने की सूचना दी गई

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना