पंछी नील गगन के

 


नमन-मगसम पटल

पंछी नील गगन के

सदा उन्मुक्त रहे हैं/
हम पंछी नील गगन के//
सदा संतुष्ट रहे हैं/
हम पंछी नील गगन के//

कई हादसे आए/
हमने घोंसलों में ही बिताए//
थोड़ा सा धीरज रखा तो/
आसमां साफ हो आए//

सतत उड़ा भरते रहे हैं/
हम पंछी नील गगन के//
विस्तृत नभ में विचरते रहे हैं/
हम पंछी नील गगन के//

*सदा उन्मुक्त रहे हैं/*
*हम पंछी नील गगन के//*
*सदा संतुष्ट रहे हैं/*
*हम पंछी नील गगन के//*

नीलाम्बर मन पवित बनाता/
क्षितिज प्रेम का पाठ पढ़ाता//
मन का पंछी झूम के गाता/
दिलटूटों में होंसला जगाता//

सदा कृत संकल्पित रहे हैं/
हम पंछी नील गगन के//
पल्लवित पोषित रहे हैं/
हम पंछी नील गगन के//

*सदा उन्मुक्त रहे हैं/*
*हम पंछी नील गगन के//*
*सदा संतुष्ट रहे हैं/*
*हम पंछी नील गगन के

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर