शारीरिक शिक्षकों की समस्या को लेकर डीईओ को दिया ज्ञापन

भीलवाड़ा (हलचल)। फिजिकल टीचर्स ऑर्गेनाइजेशन, राजस्थान की भीलवाड़ा शाखा के जिलाध्यक्ष गणपत शर्मा के नेतृत्व में जिला शिक्षा अधिकारी, माध्यमिक (मुख्यालय) को जिले के शारीरिक शिक्षा अध्यापकों की विभिन्न समस्याओं के समाधान हेतु ज्ञापन दिया गया। जिला महामंत्री फारुख पठान ने बताया की ज्ञापन के माध्यम से  मुख्य रूप से इस सत्र की शारीरिक शिक्षकों की संगोष्ठी करवाने, 2022 की खेलकूद प्रतियोगिताओं का आवंटन कर जिला, राज्य व राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं के आयोजन हेतु प्रस्ताव मांगे जाए। प्रतियोगिताओं मे विभागीय नियमानुसार रोटेशन पद्धति से संयोजक, चयन समिति सदस्य व निर्णायक लगाए जाएं, शारीरिक शिक्षकों के विभाग में लंबित प्रकरण का शीघ्र निस्तारण, कार्यालय में जमा क्रीड़ा शुल्क से खेल उपकरण क्रय करने, सत्र 2022-23 की क्रीड़ा समिति का गठन कर शारीरिक शिक्षकों को प्राथमिकता दी जाए, प्रतियोगिता आयोजन विद्यालयों को प्रति संभागी राशि 15 से बढ़ाकर 25 रुपए किए जाएं। शारीरिक शिक्षकों को खेलकूद के अतिरिक्त अन्य सभी कार्यों से मुक्त किया जाए। जिले के समस्त विद्यालयों से प्रस्ताव प्राप्त कर खेल मैदानों का निर्माण राज्य सरकार और निदेशालय के माध्यम से करवाए जाए। शारीरिक शिक्षा विषय को कक्षा 1 से 10 मे अनिवार्य व 11 और 12 में ऐच्छिक विषय के रूप में लागू कर निशुल्क पाठ्यपुस्तकों की व्यवस्था की जाए। क्रीड़ा संगम का प्रस्ताव भिजवाया जाए। राउमावि प्रतापनगर के नाड़ी मोहल्ला भवन को शारीरिक शिक्षकों हेतु आवंटन किया जाए जिसका उपयोग क्रीड़ा संगम के कार्यालय व आरके भवन के रूप मे खिलाड़ियों और शारीरिक शिक्षकों हेतु उपयोग किया जाए। राज्य व राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में भाग लेने वाले खिलाड़ियों हेतु खेल पोशाकों का क्रय टेंडर प्रक्रिया के माध्यम से विभाग द्वारा किया जाए। खेल मैदानों पर अतिक्रमणों को हटाया जाए। 2018 तक की स्थाई पात्रता सूचियां जारी की जाए। क्रमोन्नत विद्यालयों के शारीरिक शिक्षकों के वेतन हेतु स्थाई व्यवस्था की जाए आदि समस्याओं के संबंध में जिला शिक्षा अधिकारी माध्यमिक (मुख्यालय ) से चर्चा की गई।  ज्ञापन देते समय रोशन जोशी, कैलाश जोशी, मंजू छीपा, महिला जिलाध्यक्ष शिखा पाठक, पूजा उपाध्याय, माया खटीक, इस्लाम कायमखानी, दौलत सिंह कानावत, राजेश खटीक, भगवान सिंह, कमलेश खटीक, हरीश खटीक, उमेश खटीक, सीताराम ओड, महादेव, हरिनारायण कोली, मनीष टांक, लादू खोईवाल, चंद्रशेखर कुमावत व राजेश आदि उपस्थित थे।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना