खुद का मकान होने के बावजूद मंदिर में रहने को विवश दिव्यांग की नहीं सुन रही पुलिस, पीडि़त ने दी आत्महत्या की चेतावनी

 


 भीलवाड़ा हलचल न्यूज.
मांडलगढ़ थाना क्षेत्र के एक गांव के 50 वर्षीय देबीलाल को खुद का मकान होने के बावजूद पिछले सात साल से मंदिर में रहने को मजबूर होना पड़ रहा है। घर व जमीन दिलाने की मांग को लेकर देबीलाल कई बार पुलिस से शिकायत कर चुके हैं लेकिन कोई सुनवाई नहीं हो रही। पीड़ा की बात तो यह है कि देबीलाल दोनों पैरों से दिव्यांग हैं और परिवार के नाम पर उनके भाइयों के अलावा कोई नहीं है।
   खंगारजी का खेड़ा मांडलगढ़  निवासी देबीलाल रेबारी पुत्र लक्ष्मण रेबारी ने शुक्रवार को एसपी को ज्ञापन सौंपकर कहा कि वह अविवाहित है। उसका भाई लालू भी अविवाहित है। इसके चलते उसके भाई लालू ने बड़े भाई हरलाल रेबारी के बेटे पप्पूलाल को गोद ले लिया। देबीलाल ने कहा कि पप्पू को लालू ने गोद लिया और अपनी संपत्ति उसके नाम कर दी। इसी बीच पप्पू के मन में खोट पैदा हो गया और वह देबीलाल का मकान और जमीन भी हड़पने की नीयत रखने लगा। इसके चलते लालू पुत्र लक्ष्मण रेबारी, हरलाल पुत्र लक्ष्मण रेबारी, पप्पूलाल, शैतान पुत्र हरलाल रेबारी, गजरी पत्नी पप्पूलाल व गेंदा पत्नी हरलाल रेबारी ने धोखे से उसका मकान व जमीन हड़प ली और उसे बाहर निकाल दिया। इसके चलते वह 7 साल से पीलिया की झूंपडिय़ा स्थित देवनारायण मंदिर में रहने को मजबूर है। देबीलाल का आरोप है कि  उसके कुएं, दो बाड़ों, मोटर इंजन, पाइप व अन्य संपत्ति भी हड़प कर लिये गये।  देबीलाल ने बताया कि उसने पहले 2 व 14 मार्च को भी कलेक्टर व एसपी को ज्ञापन सौंपा था लेकिन पुलिस टालमटोल का रवैया अपना रही है। देबीलाल ने ज्ञापन में चेतावनी दी है कि पांच दिन में उसकी मांग पर सुनवाई होकर कार्रवाई नहीं होने पर उसे इच्छामृत्यु की इजाजत दी जाए नहीं तो वह आत्महत्या कर लेगा। ज्ञापन में देबीलाल ने उसकी संपत्ति दिलाने की मांग की है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर