चपरासी हत्याकांड-देवर-भाभी सहित तीनों आरोपित कोर्ट में पेश, दो दिन रिमांड पर भेजा

 


 भीलवाड़ा हलचल। जिले के गुलाबपुरा थाने की वीर तेजा कॉलोनी में रिटायर्ड चपरासी की हत्या मामले में गिरफ्तार देवर-भाभी व एक अन्य महिला को गुलाबपुरा पुलिस ने  गुरुवार को कोर्ट में पेश किया, जहां से तीनों को दो दिन रिमांड पर भेज दिया गया। तीनों आरोपितों ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया है कि सेवानिवृत्त चपरासी, धक्का-मुक्की होने से छत से नीचे गिर पड़ा, जिससे मौत हो गई। ऐसे में पुलिस को अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट का इंतजार र्है।  इस रिपोर्ट से ही मौत के वास्तविक कारण सामने आ पायेंगे। 
गुलाबपुरा पुलिस ने हलचल को बताया कि भोजरास निवासी मोहनलाल मेघवंशी 62 चपरासी के पद पर रिटायर्ड थे। मेघवंशी अकेले ही वीरतेजा कॉलोनी में रह रहे थे। बुधवार सुबह मोहन लाल का शव वीर तेजा कॉलोनी स्थित मकान से 200 मीटर दूरी पर एक खाली भूखंड में मिला था।  मृतक के जीजा हुरड़ा निवासी रामचंद्र पुत्र रूपा मेघवंशी की रिपोर्ट पर हत्या का मामला दर्ज किया था। पुलिस ने मात्र 6 घंटे में वारदात का खुलासा कर जगदीश पुत्र लेहरूलाल सालवी 46 निवासी चटावटी राशमी हाल वीर तेजा कॉलोनी, इसकी भाभी रेखा पत्नी मदनलाल सालवी 45 औैर शमीम पत्नी नवाब अली 40 निवासी गणेशपुरा चित्तौडग़ढ़ को  गिरफ्तार किया था। पुलिस का कहना है कि प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि मोहन के अपने पड़ोसी मदन लाल की परिचित महिला से अवैध संबंध थे। मदनलाल का भाई जगदीश, मृतक मोहनलाल को ब्लैकमेल कर रहा था। 
तीनों आरोपितों ने पुलिस पूछताछ में कबूल किया है कि12-13 अप्रैल की मध्यरात्रि को शमीम बानो ने मोहनलाल को अपनी बहन रेखा पत्नी मदनलाल के घर पर मिलने के लिए बुलाया था। इसके बाद रेखा व उसका देवर जगदीश भी छत पर पहुंच गये थे। इन्होंने मोहन को छत पर देखकर बोलचाल शुरु कर दी। इस दौरान धक्का-मुक्की भी हुई। इसके चलते मोहन लाल छत से नीचे गिर पड़ा। इसी के चलते उसकी मौत हो गई। उधर, तीनों ने यह भी स्वीकार किया है कि इस घटना के बारे में उन्होंने किसी को कुछ नहीं बताया।  इसे लेकर पुलिस का कहना है कि आरोपित पुलिस को गुमराह करने के लिए भी यह कहानी बना रहे हो। इनकी इस बात पर पर तब तक यकीन नहीं किया जा सकता, जब तक की पोस्टमार्टम रिपोर्ट नहीं आ जाती। रिपोर्ट आने पर ही मौत के वास्तविक कारण सामने आ पायेंगे। फिल्हाल पुलिस की निगाह अब पोस्टमार्टम रिपोर्ट पर टिकी है। 
 इस बीच, पुलिस ने गुरुवार को तीनों आरोपितों को न्यायालय में पेश किया, जहां से इन्हें दो दिन रिमांड पर भेज दिया गया। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना