एएसपी, डीएसपी व सीआई के निलंबन की मांग को लेकर सौंपा ज्ञापन, उग्र आंदोलन की चेतावनी, आधे दिन बाद खुले कोटड़ी के बंद बाजार

 

भीलवाड़ा/ कोटड़ी अभिषेक शर्मा।  कोटड़ी चारभुजानाथ के तुलसी विवाह के दौरान 11 अप्रैल को निकाली गई बारात को रोकने और 33 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने पर एएसपी ज्येष्ठा मैत्रेयी, डीएसपी हंसराज बैरवा, सीआई पुष्पा कासोटिया व उनके सहयोगियों को निलंबित करने की मांग को लेकर कोटड़ी के 1500 से ज्यादा महिला-पुरुषों ने एसडीएम को ज्ञापन सौंपा। शांतिपूर्ण तरीके से ज्ञापन सौंपने के बाद बंद बाजार खुल गया।
इससे पूर्व मंगलवार शाम को ही कोटड़ी के चौक में लगे काले पत्थर पर बुधवार को सुबह 6 से दोपहर 12 बजे तक बाजार बंद रखने का फरमान लिख दिया गया था। इसमें ज्ञापन सौंपने की बात कहते हुए लोगों को चारभुजानाथ मंदिर पर एकत्रित होने की बात भी लिखी गई थी।
इसके बाद बुधवार को सुबह से ही लोग चारभुजा नाथ मंदिर के बाहर एकत्रित होने लगे। करीब 1500 महिला-पुरुष वहां जमा हो गए। इसके बाद सभा हुई जिसमें तुलसी विवाह के दौरान हंगामे के बाद 33 लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज करने का विरोध किया गया। इसके बाद सभी लोग मंदिर से रैली के रूप में ढोल-नगाड़ों के साथ कस्बे के मुख्य मार्गों से होते हुए एसडीएम कार्यालय पहुंचे। एसडीएम को ज्ञापन सौंपा गया।
ज्ञापन में तुलसी विवाह के दौरान 33 लोगों के खिलाफ दर्ज किए गए मुकदमों को वापस लेने और एएसपी ज्येष्ठा मैत्रेयी, सीओ सिटी हंसराज बैरवा और सीआई पुष्पा कासोटिया व उनके सहयोगियों को निलंबित करने की मांग की गई। ज्ञापन में कहा गया है कि 33 लोगों के खिलाफ दर्ज मुकदमे वापस नहीं लिए जाएं तो बारात में शामिल सभी लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया जाए। तीन दिन में मांग पूरी नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी भी कस्बावासियों ने दी है।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

वीडियो कोच ने स्कूटर को लिया चपेट में, दो बहनों की मौत, भाई घायल, बागौर में शोक

शराब के नशे में महिला सहित 4 लोगों ने किया तमाशा वीडियो वायरल

आदर्श तापड़िया मर्डर: परिजनों से समझाइश का दूसरा दौर शुरू

मांडल में विवादित कुर्क जमीन मामले को लेकर जुटी भीड़, पुलिस ने लाठियां भांज कर दो किलोमीटर तक खदेड़ा,बाजार बंद

हत्या पर हंगामा, देवा गुर्जर के समर्थकों ने फूंकी बस, मॉर्चरी के बाहर बरसाए पत्थर